• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Nominations Will Be Submitted At 40 Places, Forms Of All Four Posts Are Same, Counting Of Votes At Three Places

पंचायत चुनाव:40 जगह जमा होंगे नामांकन, चारों पदों के फॉर्म एक जैसे, वोटों की गिनती तीन जगह

ग्वालियर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिले में 13 दिसंबर से नामांकन भरने की प्रक्रिया शुरू होगी, 6 जनवरी को होगा मतदान। - Dainik Bhaskar
जिले में 13 दिसंबर से नामांकन भरने की प्रक्रिया शुरू होगी, 6 जनवरी को होगा मतदान।

पंचायत चुनाव की तैयारी लोकसभा-विधानसभा जैसी नहीं होंगी। पंचायत में चार पदों के लिए नामांकन 40 जगह लिए जाएंगे और वोटों की गिनती भी तीन स्थानों पर होगी। पंच-सरपंच के वोट वहीं गिने जाएंगे। सरपंच, जिला एवं जनपद पंचायत सदस्य के नामांकन के साथ शपथ-पत्र लगेगा जबकि पंच पद के प्रत्याशी खुद ही अपराध और बकाया कि घोषणा कर सकेंगे।

पंचायत चुनाव में किसी राजनीतिक दल का दखल नहीं होता है, इसी कारण जिला स्तर की स्टैंडिंग कमेटी में सिर्फ अफसर ही रखे गए हैं। निर्वाचन कार्यालय के मुताबिक कुल 4 हजार 648 पदों के लिए जिले में 6 जनवरी को मतदान होना है। इनके लिए नामांकन भरने की प्रक्रिया 13 दिसंबर से चालू होना है। इस बार नामांकन फार्म उक्त पदों के लिए एक जैसे रखे गए हैं। सिर्फ जमानत राशि अलग-अलग रहेगी। पंच-सरपंच को नामांकन ऑनलाइन करने से छूट है पर बाकी के लिए इसे जरूरी किया गया है।

उप जिला निर्वाचन अधिकारी विनोद भार्गव ने कहा कि जिला एवं जनपद पंचायत सदस्य के वोटों की गिनती जिले में तीन स्थानों पर होगी। मुरार व घाटीगांव के वोट पॉलीटेक्निक संस्थान, भितरवार के वोट भितरवार कृषि उपज मंडी एवं डबरा के वोट नवीन कृषि उपज मंडी में गिने जाएंगे।

जानिए- किस पद के नामांकन कहां पर जमा होंंगे

  • जिला पंचायत सदस्य: 13 वार्डों के नामांकन कलेक्ट्रेट में जमा होंगे। भितरवार-डबरा के आवेदन एडीएम एचबी शर्मा व घाटीगांव-मुरार के एसडीएम प्रदीप सिंह तोमर।
  • जनपद पंचायत सदस्य: आवेदन ब्लॉक-तहसील स्तर पर जमा होंंगे। घाटीगांव के 24 वार्ड के नामांकन घाटीगांव जनपद, भितरवार के वहीं तहसील में, मुरार के जनपद दफ्तर तथा तहसील डबरा में दो-दो स्थानों पर नामांकन जमा होंगे।
  • पंच-सरपंच पद के लिए: नामांकन क्लस्टर बनाकर 30 स्थानों पर जमा होंगे। जिले में सरपंच के पद 255 हैं जबकि पंच के 4 हजार 281 पद। पंच के आधे से अधिक पदों पर प्रत्याशी निर्विरोध चुने जाते रहे हैं।

आचार संहिता का पालन हो

पंचायत चुनाव की आचार संहिता लागू होने के बाद जिला स्तर पर बनी स्टैंडिंग कमेटी की पहली बैठक सोमवार को हुई। इसमें कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह व एसपी अमित सांघी ने अफसरों से कहा कि कहीं भी चूक न हो, आचार संंहिता का सख्ती से पालन कराया जाए। कलेक्टर ने कहा शिकायत निराकरण के लिए जिला एवं जनपद स्तर पर कंट्रोल रूम बनेंगे।

चुनाव संबंधी अनुमति लेकर लोग परेशान न हों इसलिए सिंगल विंंडो व्यवस्था पर अमल किया जाएगा। एसपी ने कहा, निलंबित शस्त्र लाइसेंस 10 दिसंबर तक थाना-डीआरपी लाइन में जमा कराने होंगे। जो आपराधिक प्रवृत्ति के हैं उनकी धरपकड़ होगी।

खबरें और भी हैं...