पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Number Of Corona Infected In Gwalior Crossed 13 Thousand, One Thousand Patients Increased In 21 Days

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोविड अपडेट:ग्वालियर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 13 हजार पार, 21 दिन में बढ़े एक हजार मरीज

ग्वालियरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अक्टूबर में इंदौर और भोपाल की तुलना में ग्वालियर में काफी कम मिले मरीज
  • अक्टूबर में इंदौर और भोपाल की तुलना में ग्वालियर में काफी कम मिले मरीज

जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बुधवार को 13 हजार के पार पहुंच गई। जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 11 हजार से 12 हजार पहुंचने में 11 दिन का समय लगा था, लेकिन कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 12 हजार से 13 हजार पहुंचने में 21 दिन का समय लगा।

जिले में बुधवार तक कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 13038 हो गई। अक्टूबर में इंदौर और भोपाल की तुलना में ग्वालियर में काफी कम मरीज मिले हैं। साथ ही कोरोना से मरने वालों की संख्या में भी कमी आई है।

अक्टूबर में सबसे ज्यादा मरीज इंदौर में मिले हैं और मौत भी वहां सबसे अधिक हुई है। ग्वालियर में 28 दिन में महज 40 लोगों की मौत कोरोना के कारण हुई है, जबकि सितंबर में 104 मौतें हुई थीं। सितंबर की तुलना में अक्टूबर में नए मिलने वाले मरीज की संख्या भी काफी कम हो गई है।

सगाई में शामिल होने के बाद आया बुखार, जांच में निकला कोरोना पॉजिटिव

दतिया निवासी संक्रमित कर्मचारी आवास कॉलोनी में अपने एक परिचित के लड़के की होटल में हुई सगाई में शामिल होने आया था। सगाई के बाद उनसे अपनी जांच कराई तो पता चला कि वह कोरोना पॉजिटिव है। संक्रमित का कहना है कि उसे बुखार आ रहा था। इसलिए उसने अपनी जांच कराई।

रिपोर्ट में भाजपा किसान मोर्चा के शहर जिला महामंत्री की पत्नी संक्रमित निकली हैं। जिला महामंत्री ने बताया कि वह अपनी पत्नी के साथ एक सप्ताह पूर्व भोपाल गए थे। वहां से लौटने के बाद पत्नी को बुखार आने लगा। इसलिए दोनों ने जांच कराई तो पत्नी संक्रमित निकली और उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है।

पीठासीन अधिकारी निकले संक्रमित, इसके बाद भी उन्हें प्रशिक्षण में बुला लिया

चार शहर का नाका निवासी 56 वर्षीय स्टेनोग्राफर को बुखार आ रहा था। इसी के चलते उन्होंने अपनी और अपने 32 वर्षीय बेटे की जांच कराई, लेकिन चुनाव में उन्हें पीठासीन अधिकारी बनाया गया है। कोरोना का सैंपल देने के बाद वे बुधवार को आईआईटीटीएम पहुंचे और संबंधित अधिकारी को लिखित आवेदन देते हुए कहा कि उन्हें बुखार आ रहा और डॉक्टर के कहने पर कोरोना की जांच के लिए सैंपल दिया है।

इसलिए उन्हें प्रशिक्षण से मुक्त किया जाए, लेकिन अधिकारी ने स्टेनोग्राफर को प्रशिक्षण में शामिल होने की बात कही। शाम को आई रिपोर्ट में स्टेनोग्राफर व उसका बेटा दोनों ही संक्रमित निकले। इसी तरह डीआरपी लाइन में पदस्थ आरक्षक, वीरपुर निवासी एएनएम व उनका पति, सिटी सेंटर निवासी निजी स्कूल का शिक्षक, डीडी नगर निवासी एमपीईबी से सेवानिवृत्त अधिकारी की पत्नी भी कोरोना संक्रमित निकली हैं। इसके अलावा कोटेश्वर निवासी 80 वर्षीय बुजुर्ग को संक्रमण निकला है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- यह समय विवेक और चतुराई से काम लेने का है। आपके पिछले कुछ समय से रुके हुए व अटके हुए काम पूरे होंगे। संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी समस्या का भी समाधान निकलेगा। अगर कोई वाहन खरीदने क...

और पढ़ें