पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रेल सेवा:पहले दिन खाली गई शताब्दी एक्सप्रेस दिल्ली से 41 यात्री आए, 61 भोपाल गए

ग्वालियर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शताब्दी एक्सप्रेस बदले हुए समय के साथ 39 दिन बाद गुरुवार से फिर से दौड़ने लगी। पहले दिन गुरुवार को दिल्ली से हबीबगंज (भोपाल) के लिए 300 यात्री सवार हुए। जबकि 41 यात्री ग्वालियर आए। शहर से भोपाल के लिए 68 टिकट बुक हुए। इनमें से 61 यात्री रवाना हुए। जबकि हबीबगंज से दिल्ली की ट्रेन में भोपाल से 34 यात्री आए और यहां से 93 यात्री सवार हुए।

शताब्दी में यात्रियों के बैठने की क्षमता 1196 की है। पहले दिन सी-1,2,3, 11,12,13 और 14 खाली थी। जबकि एग्जीक्युटिव क्लास के कोच फुल थे। सुबह ट्रेन 9:23 बजे आई और 9:28 बजे भोपाल के लिए रवाना हो गई। रेल प्रशासन का कहना था कि यदि शताब्दी आने वाले दिनों में फुल होकर चलती है तो गतिमान एक्सप्रेस चलाई जाएगी।

बिलासपुर राजधानी 22 से फिर चलेगी यशवंतपुर-निजामुद्दीन के फेरे बढ़ाए

नई दिल्ली-बिलासपुर राजधानी 22 जून से फिर से मंगलवार व शनिवार को चलेगी। जबकि बिलासपुर नई दिल्ली हर सोमवार व गुरुवार को 24 जून से चलेगी। साथ ही यशवंतपुर-हजरत निजामुद्दीन त्योहार स्पेशल ट्रेन 31 जुलाई तक बदले हुए समय पर चलेगी। 30 जून से यह ट्रेन 13 मिनट पहले आएगी। वहीं हजरत निजामुद्दीन-यशवंतपुर त्योहार स्पेशल 24 जुलाई तक चलेगी। कोयंबटूर-हजरत निजामुद्दीन के 4 जुलाई से 7 नवंबर तक के लिए फेरे बढ़ाए गए हैं। हजरत निजामुद्दीन-कोयंबटूर, हजरत निजामुद्दीन से 7 जुलाई से 10 नवंबर तक संचालित की जाएगी।

खबरें और भी हैं...