• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • On Tuesday Too, The Employees Showed Strength In The Strike, Demonstrating On Dum, Barra, Phulbagh

बैंक हड़ताल:मंगलवार को भी हड़ताल में कर्मचारियों ने दिखाया दम, बाड़ा, फूलबाग पर प्रदर्शन कर दिखाई शक्ति

ग्वालियर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बाड़ा पर हड़ताल के दूसरे दिन प्रदर्शन करते बैंक कर्मचारी - Dainik Bhaskar
बाड़ा पर हड़ताल के दूसरे दिन प्रदर्शन करते बैंक कर्मचारी
  • बैंकों के निजीकरण के खिलाफ दो दिवसीय हड़ताल मंगलवार को हुई पूरी
  • बुधवार को खुलेंगे बैंक, रोज की तरह होंगे काम

राष्ट्रीयकृत बैंकों के निजीकरण के विरोध में दो दिवसीय हड़ताल का दूसरा दिन भी सफल रहा है। 12 बैंक की 200 से ज्यादा ब्रांच में मंगलवार को भी बिल्कुल काम नहीं हुए हैं। कर्मचारियों ने दोपहर के समय बाड़ा स्टेट बैंक के बाहर और फूलबाग पर प्रदर्शन कर अपनी शक्ति दिखाई है। आम ग्राहक परेशान न हो इसके लिए ATM में कैश की व्यवस्था की गई थी। बुधवार को अपने नियत समय पर बैंक खुलेंगे और आम दिनों तक बैंकिंग कारोबार होंगे।

केन्द्र सरकार के राष्ट्रीयकृत बैंकों के निजीकरण के फैसले के खिलाफ राष्ट्रीयकृत बैंक के कर्मचारियों ने सोमवार और मंगलवार को दो दिवसीय हड़ताल का ऐलान किया था। जिस कारण 12 राष्ट्रीयकृत बैंकों की 200 शाखाएं दो दिन बंद रही हैं। मंगलवार को बैंक हड़ताल का दूसरा दिन था और इसका व्यापक असर भी देखने को मिला है, जबकि निजी क्षेत्र के बैंक खुले रहे। दो दिन में करोड़ों रुपए का बैंकिंग कारोबार प्रभावित हुआ है। हड़ताल के दूसरे दिन बैंक कर्मचारियों ने फूलबाग और महाराज बाड़ा पर प्रदर्शन किया। दोपहर 2 बजे सभी कर्मचारी एकत्रित हुए और अपनी मांगों को रखा गया। इसे दौरान बैंक कर्मचारी निजीकरण को लेकर काफी आक्रोशित नजर आए। और केन्द्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की है।

यह बैंक रहे बंद

शहर में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, इंडियन बैंक, पंजाब एंड सिंध बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, ग्रामीण बैंक, बैंक ऑफ बडौदा, यूनियन बैंक, सेट्रल बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, इंडियन ओवरसीज बैंक, एवं कॉपरेटिव बैंक की सभी ब्रांच में काम नहीं हुआ है। इन 12 बैंक की करीब 200 से ज्यादा ब्रांच हैं जहां दो दिन बैंकिंग कारोबार नहीं हुआ है।

न जमा हुआ कैश न निकला

बैंक की दो दिवसीय हड़ताल के दूसरे और आखिरी दिन मंगलवार को भी करोडों का बैंकिंग कारोबार प्रभावित हुआ है। सबसे ज्यादा ऐसे लोग परेशान हुए हैं जो बैंक में रोजाना के कार्य जैसे कैश की जमा-निकासी, चेक क्लियरिंग, ड्राफ्ट, RTGS –NEFT, चालान, पासबुक प्रिंटिंग, होम लोन, कार लोन, एजुकेशन लोन आदि काम किए आते जाते हैं। हड़ताल के कारण लोगों के ये काम नहीं हो सके।

खबरें और भी हैं...