पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भास्कर लाइव:आदेश बेअसर, 10 किमी का किराया 500 की जगह 2 हजार रुपए वसूल रहे हैं एंबुलेंस चालक

ग्वालियर2 महीने पहलेलेखक: रामरूप महाजन
  • कॉपी लिंक
एंबुलेंस चालक से रेट तय करता रिपोर्टर। - Dainik Bhaskar
एंबुलेंस चालक से रेट तय करता रिपोर्टर।
  • सरकार ने एंबुलेंस के रेट तय किए लेकिन भास्कर रिपोर्टर ने पूछा तो 4 गुना ज्यादा बताए

गृह विभाग ने काेराेना संक्रमिताें के लिए एंबुलेंस का किराया तय कर दिया है, लेकिन आदेश जारी हाेने के दूसरे दिन गुरुवार काे भी एंबुलेंस चालक तीन से चारगुना तक किराया वसूलते मिले। यह खुलासा तब हुआ, जब दैनिक भास्कर के रिपाेर्टर ने मरीज का अटेंडेंट बनकर एंबुलेंस चालकों से बात की।

रिपाेर्टर ने शहर के सबसे बड़े अस्पताल जेएएच, मुरार स्थित एक निजी हॉस्पिटल और बिड़ला हॉस्पिटल के बाहर खड़ी एंबुलेंस चालकों से 5 किमी तक दूरी के अस्पताल तक मरीज को ले जाने का किराया पूछा ताे किसी ने 1500 और किसी ने 2 हजार रुपए मांगे, जबकि सरकार ने पांच किमी का किराया अधिकतम 500 रुपए तय किया है।

आरटीओ के वाट्स नंबर पर कर सकते हैं शिकायत

एंबुलेंस चालक यदि कोरोना मरीजों के परिजनों से अधिक किराया वसूल करते हैं तो आरटीओ एसपीएस चौहान के वाट्सअप नंबर 94251-09329 पर लिखित रूप से कर सकते हैं। आरटीओ का कहना है कि इसके अलावा संबंधित थाना और सीएमएचओ से भी शिकायत कर सकते हैं।

व्हीकल एक्ट के तहत कार्रवाई करेंगे

एंबुलेंस के खिलाफ सीधे कार्रवाई करने का अधिकार परिवहन विभाग के पास नहीं है। परिवहन विभाग सामान्य वाहन की तरह एंबुलेंस का भी रजिस्ट्रेशन करता है। यदि हमारे पास शिकायत आती है या स्वास्थ्य विभाग वाहन के खिलाफ कार्रवाई करने की अनुशंसा करता है तो व्हीकल एक्ट के तहत कार्रवाई करेंगे। - मुकेश कुमार जैन, परिवहन आयुक्त

खबरें और भी हैं...