पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आपदा में मौके:पिछले वर्ष से 1 लाख रुपए बढ़ा पैकेज, अब तक 264 स्टूडेंट्स हुए प्लेस

ग्वालियरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लगातार टेक्निकल सेशन अटेंड किए, इसका फायदा मिला। - Dainik Bhaskar
लगातार टेक्निकल सेशन अटेंड किए, इसका फायदा मिला।
  • एबीवी ट्रिपल आईटीएम के चार स्टूडेंट्स को इस साल मिला 43 लाख का सर्वाधिक पैकेज

कोरोना का दौर शिक्षण संस्थानों के लिहाज से बुरा रहा है, लेकिन सुकून भरी बात यह भी है कि ऑनलाइन प्लेसमेंट जारी है। कोरोना की दूसरी लहर में भी स्टूडेंट्स को कंपनियां बेहतर पैकेज ऑफर कर रही हैं। अटल बिहारी वाजपेयी इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट (एबीवी ट्रिपल आईटीएम) के 4 स्टूडेंट्स को माइक्रोसॉफ्ट ने 43 लाख रुपए का पैकेज ऑफर किया है। संस्थान से पास आउट हो रहे बीटेक सीएसई पहले बैच के छात्र प्रज्ज्वल सिंह को 31 लाख रुपए का पैकेज मिला है।

इस साल शहर में किसी स्टूडेंट्स को मिले यह अब तक के सर्वाधिक पैकेज हैं। वहीं इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टूरिज्म एंड ट्रैवल मैनेजमेंट (आईआईटीटीएम) के एक छात्र को 7.50 लाख रुपए का सर्वाधिक पैकेज मिला है। एलएनआईपीई के स्टूडेंट्स को 6 लाख और आईएचएम के स्टूडेंट्स को 2.75 लाख का सर्वाधिक पैकेज इस साल मिल चुका है। बात इन चारों संस्थानों की करें तो इस बार कुल 747 स्टूडेंट्स कैंपस प्लेसमेंट में शामिल हुए हैं। अब तक इनमें 264 स्टूडेंट्स को प्लेसमेंट मिल चुका है, प्लेसमेंट प्रक्रिया अभी जारी है। इसलिए यह प्लेस होने वालों की संख्या बढ़ सकती है। पिछले वर्ष के आंकड़ों पर नजर डालें तो करीब 717 स्टूडेंट्स प्लेसमेंट में शामिल हुए थे और इनमें 307 का प्लेसमेंट हुआ था।

  • 42 लाख का पैकेज 2019-20 में मिला था।
  • 17 लाख का एवरेज पैकेज 2019-20 में था।
  • 322 स्टूडेंट्स संस्थानों के पिछले वर्ष प्लेस हुए
  • 264 इस बार अब तक प्लेसमेंट पा चुके हैं।

लगातार टेक्निकल सेशन अटेंड किए, इसका फायदा मिला
43 लाख का पैकेज पाने वाली एमटेक की छात्रा जूही तिवारी कहती हैं कि मैंने फर्स्ट ईयर से ही इस पर ध्यान दिया। इंटर्नशिप के साथ हर चीज को बारीकी से समझा। ऑनलाइन प्लेसमेंट के समय स्कोरिंग टेस्ट हुआ। इसमें बेहतर स्कोर कर सकी। टेक्निकल सेशन अटेंड करने का फायदा टेक्निकल इंटरव्यू में मिला।
फर्स्ट ईयर से ही इंटर्नशिप की और इसकी बारीकियां समझीं
31 लाख रुपए का पैकेज पाने वाले बीटेक सीएसई के छात्र प्रज्ज्वल सिंह बताते हैं कि मैंने फर्स्ट ईयर से ही इंटर्नशिप की और कंपनी में काम करने का तरीका समझा। इसका फायदा ऑनलाइन प्लेसमेंट में मिला। जुलाई 2021 में मेरी ज्वॉइनिंग वर्क फ्रॉम होम से होगी। स्थिति सामान्य होने पर जॉब लोकेशन बेंगलुरू होगी।

एबीवी ट्रिपल आईटीएम: लगातार बढ़ रहा है पैकेज

संस्थान में ऑनलाइन प्लेसमेंट प्रक्रिया जारी है। अब तक आईपीजी एमटेक के 104 में से 90, एमबीए के 14 में से 10 और बीटेक सीएसई के 41 में से 30 स्टूडेंट्स प्लेसमेंट पा चुके हैं। एमटेक की छात्रा जूही तिवारी, जूही पुरुषवानी, प्रगति बाहेती और साहिल को माइक्रोसॉफ्ट ने 43 लाख रुपए का पैकेज दिया है। वहीं बीटेक के छात्र प्रज्ज्वल सिंह को 31 लाख रुपए का पैकेज मिला है।

इस बार 60 कंपनियों ने ऑनलाइन प्लेसमेंट किया। इनमें 10 नई कंपनियां भी शामिल हैं। आईपीजी एमटेक का एवरेज पैकेज 19 लाख रुपए रहा है। 2019-20 में सर्वाधिक पैकेज 42 लाख और एवरेज पैकेज 17 लाख रुपए रहा था। वर्ष-2019-20 में आईपीजी एमटेक और एमबीए के 119 स्टूडेंट्स में से 117 को प्लेसमेंट मिला था। डायरेक्टर प्रो. आर साहू बताते हैं कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और मशीन लर्निंग बेस्ड कंपनियों की वजह से पैकेज बढ़ा है।

आईआईटीटीएम
संस्थान में एमबीए के स्टूडेंट्स के लिए ऑनलाइन प्लेसमेंट जारी हैं। रौनक सिद्दीकी को 7.50 लाख रुपए का पैकेज ऑफर किया गया है, जबकि पिछले साल 6.50 लाख रुपए का सर्वाधिक पैकेज एक छात्र को मिला था। इस बार एमबीए में 153 स्टूडेंट्स हैं। इनमें 60 कंपनियों में प्लेस हो चुके हैं। बाकी स्टूडेंट्स के लिए ऑनलाइन प्लेसमेंट जारी है। पिछले वर्ष सभी 145 स्टूडेंट्स प्लेसमेंट पाने में सफल रहे थे।

इनके भी पैकेज ठीक
एलएनआईपीई के स्टूडेंट्स को 6 लाख रुपए का पैकेज मिल चुका है। जबकि वर्ष 2018-19 में बीपीएड के 138 में 85 प्रतिशत और एमपीएड के 79 में 98 प्रतिशत स्टूडेंट्स प्लेस हुए थे। वहीं आईएचएम के 2020-21 बैच में 185 स्टूडेंट्स हैं। इनमें 30 स्टूडेंट्स हाल ही में प्लेस हो चुके हैं। स्थिति सामान्य होने पर इनके लिए ऑफ कैंपस प्लेसमेंट की शुरुआत की जाएगी।

खबरें और भी हैं...