पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Panic Of Lockdown, Laborers Leaving Work And Returning Home, Overload Bus Overturned, 2 Killed Before Reaching Home

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लॉकडाउन की दहशत ने ले ली जान:दिल्ली से MP के छतरपुर आ रही ओवरलोड बस पलटी, 3 मजदूरों की मौत; काम छोड़कर लौट रहे थे

ग्वालियर16 दिन पहले
हादसा झांसी हाईवे पर हुआ। गांव वालों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने क्रेन की मदद से बस को हटवाया, तब उसके नीचे दबे शवों को निकाला जा सका।

कोरोना के बढ़ते केस और लॉकडाउन के बीच दिल्ली से मध्यप्रदेश के छतरपुर आ रही मजदूरों से भरी तेज रफ्तार बस पलट गई। हादसे में तीन मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई और 15 लोग घायल बताए जा रहे हैं। दुर्घटना ग्वालियर में झांसी हाईवे पर मंगलवार सुबह जौरासी घाटी के पास हुई। फिलहाल मृतकों की पहचान नहीं हो सकी है। बस में सवार यात्रियों ने खिड़कियों से कूदकर अपनी जान बचाई। इस हादसे में टीकमगढ़ निवासी मुकेश ढीमर, मातादीन अहिरवार, जितेन्द्र अहिरवार की मौत हुई हैं। तीनों ही दिल्ली में मजदूरी करते थे।

दिल्ली में लॉकडाउन की वजह से लौट रहे थे
दिल्ली में रविवार को ही लॉकडाउन की घोषणा की गई है। इस वजह से MP के छतरपुर के ऐसे मजदूर जो कुछ महीने से वहां मजदूरी कर रहे थे, उन्होंने पलायन शुरू कर दिया है। सोमवार रात 2 बजे करीब 100 मजदूर अपने परिवार के साथ बस से छतरपुर के लिए निकले थे। कई मजदूर बस की छत पर बैठे थे जो नीचे गिर गए। इनमें से दो बस की चपेट में आ गए और उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

बच्चे और महिलाएं पलटी बस से नीचे कूद गए। इनमें से कई जख्मी हुए हैं। उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया है।
बच्चे और महिलाएं पलटी बस से नीचे कूद गए। इनमें से कई जख्मी हुए हैं। उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया है।

गांव वालों ने खिड़कियों के कांच तोड़कर लोगों को बचाया
घटना के बाद आसपास के गांव के लोग वहां पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। साथ ही बचाव के काम में जुट गए। पुलिस पहुंचती उससे पहले ही उन्होंने बस के कांच तोड़कर यात्रियों को बाहर निकालना शुरू कर दिया। कुछ घायलों का मौके पर ही इलाज किया गया, जबकि कुछ को डबरा और कुछ को ग्वालियर भेजा गया है। 8 लोगों की हालत नाजुक बताई गई है।

बाद में क्रेन की मदद से बस को उठाकर उसके नीचे से शव निकाले गए। हादसे का कारण बस का ओवरलोड होना बताया जा रहा है। सूत्रों ने बताया कि 52 सीटर बस में 100 से ज्यादा यात्री सवार थे। इन मजदूरों से दोगुना किराया भी लिया गया था।

लॉकडाउन की दहशत में लौट रहे थे घर

  • हादसे में घायल रामवती ने बताया कि वह अपने पति के साथ दिल्ली की एक मल्टी स्टोरी बिल्डिंग में मजदूरी करती है। दो बच्चे भी साथ रहते थे। पिछले साल वह पैदल चलकर अपने घर पहुंचे थे। दीपावली के बाद फिर काम पर पहुंच गए थे। अभी दिल्ली में लॉकडाउन की घोषणा हुई तो लगा कि फिर से न फंस जाएं। इस पर वे अपने घर टीकमगढ़ लौट रहे थे।
  • छतरपुर निवासी रामअवतार कि वह दिल्ली सरकार के एक सीवर प्रोजेक्ट पर मजदूरी करता था। वहां ठेकेदार से पता लगा कि फिर लॉकडाउन लग रहा है। इसी डर से परिवार को लेकर रात करीब 2 बजे वर दिल्ली से रवाना हुआ था। जिस समय हादसा हुआ वह नींद में था।
खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

और पढ़ें