पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

तैयारियां तेज:स्ट्रीट फूड हब के रूप में विकसित होगी फूलबाग चौपाटी

ग्वालियरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ऐसा दिखेगा चौपाटी का नजारा
  • स्मार्ट सिटी डवलपमेंट कार्पोरेशन ने 1.7 करोड़ रुपए की राशि के टेंडर अपलोड किए

फूलबाग चौपाटी को स्ट्रीट फूड हब में तब्दील करने की तैयारियां तेज हो गई हैं। ग्वालियर स्मार्ट सिटी डवलपमेंट कार्पोरेशन ने 1.7 करोड़ रुपए की राशि का टेंडर अपलोड कर दिया है। यह टेंडर चुनाव के बाद खोला जाएगा। स्मार्ट सिटी कार्पोरेशन ने इस प्रोजेक्ट के लिए 60 दिन की समय-सीमा तय की है। हालांकि अभी तक जितने भी प्रोजेक्ट हैं, वे समय पर नहीं हो पा रहे हैं। प्रोजेक्ट में 52 दुकानें तैयार की जाएंगी। यहां पर आने वालों के लिए बैठने के साथ-साथ अन्य सुविधाएं भी रहेंगी।

अभी फूलबाग पर चौपाटी पर ठेले पर लोग खाद्य सामग्री बेच रहे हैं। स्मार्ट सिटी ने अपने स्पेशल प्रोजेक्ट में चौपाटी को शामिल किया है। कार्पोरेशन ने इसकी डीपीआर आदि तैयार करा ली है। इसको कुछ इंदौर की तर्ज पर तैयार करने की प्लानिंग हैं।

वॉश एरिया और हरियाली का ध्यान

चौपाटी पर खास तौर से हरियाली और वॉश एरिया विकसित करने का ध्यान रखा गया है। कारोबारियों द्वारा बर्तन आदि धोने से गंदगी न फैले इसके लिए अलग से वॉश एरिया विकसित किया जाएगा। बच्चों के खेलने की सुविधा भी रहेगी। इसके लिए भी अगल से एरिया विकसित किया जाएगा। यहां आने वाले लोग स्ट्रीट फूड लेकर बैठकर खा सकें, इसकी भी व्यवस्था की गई है।

दुकानों के बीच में पेडस्ट्रियल जोन बनेगा

दुकानों के बीच-बीच में पेडस्ट्रियल जोन रहेगा। इससे लोग आसानी से आ जा सकें। इसके साथ ही विक्टोरिया मार्केट की तरफ 16 दुकानों का एक पूरा ब्लॉक रहेगा। इसके बाद एक और ब्लॉक बनेगा। इसमें पहले ब्लॉक में 4 और दूसरे में 16 दुकानें रहेंगी। इसके बाद तीसरे ब्लॉक में कम दुकानें रखी गई हैं। इसमें चार दुकानें रहेंगी। अंतिम ब्लॉक में भी 16 दुकानें बनाई जाएंगी। दुकानों के दोनों तरफ खुला एरिया रहेगा। इससे यहां आने वाले लोगों को दिक्कत नहीं हो।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर विजय भी हासिल करने में सक्षम रहेंगे। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से ...

और पढ़ें