शिवराज के मंत्री क्यों चले नंगे पैर...:2023 की तैयारी, जनता का हाल जानने सड़क पर नंगे पैर निकल पड़े ऊर्जा मंत्री

ग्वालियरएक महीने पहले
खुदी सड़क पर नंगे पैर निरीक्षण करते ऊर्जा मंत्री - Dainik Bhaskar
खुदी सड़क पर नंगे पैर निरीक्षण करते ऊर्जा मंत्री
  • - लक्ष्मण तलैया इलाके में सुबह किया निरीक्षण

बुधवार को एक बार फिर प्रदेश की शिवराज सरकार के ऊर्जा मंत्री अपने अंदाज के लिए चर्चा में हैं। इस बार वह अपने क्षेत्र में लोगों का हाल जानने नंगे पैर ही निकल पड़े। वह खुद पड़ी सड़क के मेटेंनेंस को लेकर नाराज थे। सुबह 4 बजे वह लक्ष्मण तलैया इलाके में पहुंचे। किसी के घर के बाहर नल से पानी फेलने पर उसमें टोंटी लगाई तो किसी के दरवाजे पर दस्तक देकर पूछा कैसी हो अम्मा पानी तो आ रहा है न। ऊर्जा मंत्री का यह अंदाज देखकर लोग दंग रह गए। 2023 चुनाव की तैयारी ऊर्जा मंत्री ने अपने अंदाज में कर दी है। वह लोगांे से उन्हीं के हाल में जुड़ना चाहते हैं। सुबह-सुबह निरीक्षण के दौरान वह गंदगी देखकर सफाई कर्मचारियों पर भड़के भी हैं।
बुधवार सुबह प्रदेश सरकार के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर अपने चिरपरिचित अंदाज में लोगों के बीच पहुंचे। वह सुबह 4 बजे अपनी ही विधानसभा के लक्ष्मण तलैया इलाके में पहुंचे। यहां सुबह-सुबह लोगों के दरवाजे पर दस्तक देकर पूछा क्षेत्र में पानी मिल रहा है या नहीं। आता है तो कितने बजे आता है, कितने समय के लिए आता है। इसी दौरान एक घर के बाहर नल से पानी बहता देख उन्होंने तत्काल आसपास से टोंटी का इंतजाम कर नल को बंद किया और लोगों को पानी की बचत करने के लिए कहा। इस दौरान जब उन्होंने देखा कि सड़क खुदी पड़ी है और कंक्कड बिखरे पड़े हैं तो वह ठेकेदार को आइना दिखाने नंगे पैर उस सड़क पर चल पड़े।
क्यों किया डोर टू डोर निरीक्षण
जनता का दुखः दर्द और हाल जानने के लिए प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर नंगे पैर सड़कों पर निकले पड़े। उन्होंने सुबह 5 बजे डोर-डोर दस्तक दी। अपने विधानसभा क्षेत्र ( ग्वालियर ) में विकास कार्यों का जायजा लिया। पर उन्होंने ऐसा क्यों किया यह भी सवाल खड़ा होता है। असल में वह 2023 की तैयारी में जुट गए हैं। उन्हें पता है इस बार उनके लिए चुनौतियां काफी कड़ी होंगी। इसलिए वह डोर टू डोर जाकर निरीक्षण कर रहे हैं और अपने क्षेत्र की जनता का प्यार पाने की कोशिश कर रहे हैं।
मंत्री को नंगे पैर देख अफसरों में मचा हड़कंप
मंत्री के नंगे पैर शहर की सड़कों पर निकलने की खबर में प्रशासन में हड़कंप मच गया। प्रशासनिक आधिकारी दौड़ते-भागते पहुंचे। मंत्री ने रोड मेंटेनेंस के लिए अफसरों को जमकर फटकार लगाई। इस दौरान अफसरों और कार्यकर्ताओं ने जूते पहनने की गुजारिश की लेकिन उर्जा मंत्री नहीं मानें। उखड़ी सड़क पर पैदल चलकर ही जायजा लिया। इस दौरान लोगों से चर्चा भी की गई।