• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Jyotiraditya Scindia Digvijay Singh | MP Gwalior Scindia Mahal Jai Vilas Mahal Palace Congress Poster

सिंधिया महल के सामने छुरा घोंपने का पोस्टर:ग्वालियर में सिंधिया को कमलनाथ की पीठ में छुरा मारते दिखाया; गद्दार कहा...

ग्वालियर2 महीने पहले

मध्यप्रदेश में 2023 के विधानसभा चुनाव के मद्देनजर ग्वालियर-चंबल अंचल में अभी से राजनीति गर्म होती जा रही है। कांग्रेस और सिंधिया के बीच बयानबाजी की लड़ाई अब पोस्टर पर आ गई है। कांग्रेस ने सिंधिया महल जयविलास पैलेस के सामने विवादित पोस्टर लगवाया है। पोस्टर में सिंधिया, कमलनाथ की पीठ में चाकू घोंप रहे हैं। हालांकि सिंधिया का चेहरा और गले में डला BJP के गमछे को ब्लर किया गया है।

इसी पोस्टर में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह राम की मुद्रा में तीर चलाते दिख रहे हैं। दूसरी ओर नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह लक्ष्मण के किरदार में धनुष पर तीर चढ़ाते नजर आ रहे हैं। पोस्टर में सबसे ऊपर पूर्व मंत्री सज्जन सिंह हनुमान बने हैं और संजीवनी लेकर आए हैं। इसमें ये लिखा है- गद्दारी से नाता है छुरा घोंपना आता है। कांग्रेस की तरफ लिखा है वफादारी से नाता है तीर चलाना आता है।

ग्वालियर-चंबल अंचल में सिंधिया को घेरने की तैयारी
प्रदेश में केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के कारण सरकार गंवाने वाले कमलनाथ व अन्य वरिष्ठ कांग्रेसी नेता अब ग्वालियर-चंबल अंचल में सिंधिया को घेरने की तैयारी में लगे हैं। कांग्रेस भी जानती है कि साल 2023 में कांग्रेस की सरकार बनानी है तो ज्योतिरादित्य सिंधिया का तोड़ तलाशना पड़ेगा। इसीलिए लगातार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ग्वालियर-चंबल अंचल में दौरे कर रहे हैं।

हाल में 15 दिन के अंदर दो बार कमलनाथ, दो बार दिग्विजय सिंह, नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह, अन्य नेता आ चुके हैं। सभी ने सिंधिया पर जुबानी हमला किया है, लेकिन अब बात जुबानी हमले से पोस्टर वॉर तक पहुंच गई है। अब कांग्रेस सिंधिया को गद्दार बताते हुए प्रचार कर रही है।

सिंधिया के विरोधी ने लगाए पोस्टर
शुक्रवार शाम को महल के बाहर सामने दीवार पर कांग्रेस नेता सिद्धार्थ सिंह राजावत ने यह विवादित पोस्टर लगाए है। वे कट्‌टर सिंधिया विरोधी हैं। इससे पहले वे सिंधिया के भाजपा जॉइन करने के बाद महल की दीवार पर गुमशुदा और लापता के पोस्टर लगा चुके हैं। इतना ही नहीं उन्हें तलाशने वाले को इनाम देने की घोषणा भी की थी।

सिंधिया ने भरोसा तोड़ा: कांग्रेस
कांग्रेस प्रवक्ता सिद्धार्थ सिंह राजावत ने कहा कि जिस तरह से जनता ने साल 2018 में कांग्रेस में विश्वास जताया था, लेकिन सिंधिया ने गद्दारी कर कमलनाथ की पीठ में छुरा घोंपा। अब ग्वालियर में एक दिन बाद बड़ी बैठक होने वाली है। आगामी चुनाव पर चर्चा होगी। ऐसे में विरोध अभियान की शुरुआत हमने आज से ही शुरू कर दी है। सिंधिया परिवार हमेशा से गद्दारी के लिए जाना जाता है वैसा ही उन्होंने किया।