पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

रक्षाबंधन:बहनों ने भाइयों को बांधी राखी, लिया वचन मास्क लगाए बिना न जाएं घर से बाहर

ग्वालियर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मंदिरों में पहुंचे श्रद्धालु, राखी बांधकर मांगी दुआ-अब कोरोना का नाश करो प्रभु

कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन के बीच सोमवार को भाई-बहनों का त्योहार रक्षाबंधन मनाया गया। जो बहनें शहर में थीं, उन्होंने भाइयों के लिए खरीदारी की और राखी बांधने भाई के घर पहुंची या फिर भाई को अपने घर न्यौता। बहनों ने राखी बांधने के साथ भाइयों से वचन लिया कि वह कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए घर से बाहर निकलते ही मास्क लगाएंगे। सेनिटाइजर जेब में रखेंगे और किसी से मिलने के बाद खुद को सेनिटाइज कर लेंगे।

इसके अलावा बाजार में साेशल डिस्टेंसिंग के मापदंड का पालन भी करेंगे। बहनों का कहना था कि ऐसा करने से भाइयों के रूप में मिला सुरक्षा कवच सुरक्षित रहेगा। जो बहनों भाइयों के पास नहीं पहुंच पाई थीं, उन्होंने वीडियो कॉल के माध्यम से भाइयों से बात की। कोरोना संक्रमण के बीच रक्षाबंधन की तैयारियां पिछले एक सप्ताह से शहर में चल रही थीं। लेकिन संक्रमण और बाजार के अनियमित रूप से खुलने की वजह से तैयारी गति नहीं पकड़ पा रही थी। लेकिन सोमवार को बहनें बाजार में निकलीं, भाइयों के लिए खरीदारी की और त्योहार मनाया। सोमवार को रक्षाबंधन पर कोरोना का ज्यादा असर दिखाई नहीं दिया।

सबसे ज्यादा खरीदी हाथ से बनी राखी और उपहार में दिए ड्राइफ्रूट्स और चॉकलेट
रक्षाबंधन को बहनों ने भाइयों के लिए हलवाई की दुकान से मिठाई खरीदने से बचने की कोशिश की। इसलिए अंगूरी पेठा ज्यादा बिका और शाम होते-होते बाजार से पेठा गायब हो गया। इस बाजार में ड्राय फ्रूट्स बिक्री की उम्मीद ज्यादा थी, इसलिए बाजार में दुकानदारों ने ड्राय फ्रूट्स के छोटे और बड़े पैकेट रखे थे। दुकानों पर कई जगह कलावा और सुपारी से बनाई गई राखी भी मिल रही थी।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें