• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • So Far, 2 Thousand People Have Got Registration, The First Batch Will Leave From The City On 26 June

अमरनाथ यात्रा:अब तक 2 हजार लोगों ने कराया पंजीयन शहर से 26 जून को रवाना होगा पहला जत्था

ग्वालियर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 28 जून से यात्रा शुरू होकर 22 अगस्त तक चलेगी, 15 से 75 साल तक के लोग जा सकेंगे

बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए अब तक 2 हजार लोगों ने पंजीयन करा लिए हैं। देशभर में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों के कारण इस बार श्रद्धालु असमंजस की स्थिति में हैं, फिर भी जो लोग हर साल दर्शन के लिए जाते हैं, वे आशांवित हैं कि जून तक स्थितियां नियंत्रित हो जाएंगीं और वे भोलेनाथ के दर्शन कर सकेंगे। ज्ञात रहे देशभर में लॉकडाउन के चलते बीते वर्ष बाबा बर्फानी के दर्शन करने श्रद्धालु नहीं जा सके थे।

इस साल फिर से कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ गया है। इससे श्रद्धालु बहुत सोच विचारकर पंजीयन करा रहे हैं। अभी तक तय शेड्यूल के मुताबिक 26 जून को पहला जत्था ग्वालियर से रवाना होगा, जबकि बालटाल रूट से 28 जून को दर्शन करने के लिए पहला जत्था जाएगा। बाबा बर्फानी के दर्शन करने के लिए अब तक लगभग 2 हजार श्रद्धालु पंजीयन करा चुके हैं। 17 जुलाई तक के लिए रजिस्ट्रेशन हो चुके हैं। जबकि 22 अगस्त तक बाबा बर्फानी की यात्रा शेड्यूल है।

हालांकि कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए यह कहा जा रहा है कि अमरनाथ यात्रा की तारीख आगे भी बढ़ सकती है। नया बाजार स्थित पंजाब बैंक में अभी कोरोना के चलते पंजीयन प्रक्रिया बंद है। अमरनाथ यात्रा 28 जून से शुरू होगी, जो 22 अगस्त तक चलेगी। अमरनाथ यात्रा के लिए पंजीयन 15 साल से ऊपर और 75 साल से कम उम्र वाले श्रद्धालु़ओं ही करा सकेंगे। बालटाल और पहलगाम रूट से श्रद्धालु जाकर बाबा बर्फानी के दर्शन कर सकेंगे।

वैक्सीन लगवाने वालों को मिलेगी प्राथमिकता
अमरनाथ यात्रा में शामिल होने के लिए ऐसे श्रद्धालुओं को प्राथमिकता मिलेगी, जो कोरोना वायरस से बचाव के लिए वैक्सीन लगवाकर जाएंगे। इसके साथ ही पंजीयन कराने वालों को मेडिकल फिटनेस प्रमाण पत्र जमा कराना होगा। हृदय रोगी और ब्लड प्रेशर के रोगियों के लिए यात्रा करना प्रतिबंधित है।

बाबा बर्फानी के दर्शन करने पहले जत्थे में 35 लोग जाएंगे
25 साल से लगातार बाबा अमरनाथ के दर्शन करने के लिए दौलतगंज निवासी लोकेश शर्मा जा रहे हैं। उनका कहना है कि कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ गया है। इसको लेकर अमरनाथ यात्रा जाने को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। हो सकता है अमरनाथ यात्रा की तारीख आगे बढ़ा दी जाए। उन्होंने बताया कि एक जत्थे में 35 लोग ग्वालियर से शामिल रहेेंगे। 26 जून को 4 जत्थों के साथ वह ट्रेन से रवाना होंगे।

खबरें और भी हैं...