• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • The Call Came From An Unknown Number, The Thug Said Identified Who, While Talking As A Friend Of The Employee, Sent Two Links, The Account Was Cleared On Clicking

एयरफोर्स कर्मचारी से 1 लाख की ठगी:ठग बोला-पहचानों कौन, कर्मचारी का दोस्त बनकर बात करते भेजीं दो लिंक, क्लिक करते ही अकाउंट साफ

ग्वालियर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो

ग्वालियर में एयरफोर्स में संविदा पर पदस्थ कर्मचारी के साथ अनोखे अंदाज में ठगी की वारदात हुई है। दो दिन पहले कर्मचारी के मोबाइल पर एक अनजान नंबर से कॉल आया। कॉल करने वाले ने बोला पहचानो कौन, इसके बाद कर्मचारी कुछ दोस्तों के नाम बताकर गैस करने लगा। आखिर में उपाध्याय जी पर उसने हां कहते हुए मदद मांगी। उसका कहना था कि उसके मोबाइल से ट्रांजेक्शन नहीं हो रहा है इसलिए वह अपनी लिंक उसे भेज रहा है। लिंक आते ही एयरफोर्स कर्मचारी का मोबाइल हैंग हो गया। कुछ देर बाद कुछ मैसेज थे, जिसमें 1 लाख रुपए निकाले जाने की जानकारी थी। घटना की शिकायत पीड़ित कर्मचारी ने क्राइम ब्रांच में की है। क्राइम ब्रांच ने ठगी का मामला दर्ज कर लिया है।
यह है घटना
महाराजपुरा के डीडी नगर निवासी आशीष श्रीवास्तव पुत्र वीरेन्द्र श्रीवास्तव एयरफोर्स में संविदा पर कर्मचारी हैं। दो दिन पहले वह अपने घर पर टीवी देख रहे थे। तभी उनके पास 8707047263 नंबर से कॉल आया। कॉल अटैण्ड करते ही कॉल करने वाले ने उनका हाल पूछा और जब उन्होंने उसका परिचय जानने के लिए बात की तो वह उल्टा उनसे ही पूछने लगा पहचानों कौन हूं, कई बार पूछने पर जब कॉल करने वाले ने अपना परिचय नहीं दिया। इस पर आशीष को लगा कि उनका कोई करीबी है तो वह ही अंदाज लगाकर नाम बताने लगा। कई नाम बताने के बाद जब उन्होंने उपाध्याय जी कहा तो ठग ने कहा हां उपाध्याय बोल रहा हूं फिर मदद मांगते हुए बताया कि उसके खाते से पैसे ट्रांजेक्शन नहीं हो रहे हंै और पैमेंट करना बहुत जरूरी है।
अकाउंट में रुपए डालने लिंक भेजी और ठग लिया
- आशीष को मदद के लिए तैयार करने के बाद तैयार होते ही कॉल करने वाले ने बताया कि वह उनके खाते में एक लाख रुपए ट्रांसफर कर रहा है। वह पेमेंट लिंक भेज रहा है उसे वह स्वीकार कर ले। पैसा आने पर वह उन्हें खाता नंबर दे देगा, जिसमें उन्हें पेमेंट भेजना है। रुपए पहले खाते में आने की सुनकर उन्हें विश्वाास हुआ और मोबाइल पर आई लिंक जैसे ही क्लिक की, उनके खाते से दो बार में कुल 99 हजार 998 रुपए निकल गए। रुपए निकलने का पता चलते ही उन्होंने उसी नंबर पर कॉल किया तो नंबर स्विच ऑफ मिला।
क्राइम ब्रांच ने दर्ज किया मामला
वारदात का शिकार पीड़ित पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचा और एसएसपी अमित सांघी से मामले की शिकायत की। मामले की गंभीरता को देखते हुए क्राइम ब्रांच को कार्रवाई के निर्देश दिए। जिस पर क्राइम ब्रांच ने मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है।

खबरें और भी हैं...