• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • The Condition Was Critical Due To Being Buried Under The Rubble Of The House For A Long Time, Suddenly Worsened On Monday Morning, Death

छज्जा गिरने से घायल महिला ने दम तोड़ा:काफी देर तक मकान के मलबे में दबे होने से थी हालत गंभीर, सोमवार सुबह अचानक बिगड़ी हालत, मौत

ग्वालियर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पोस्टमार्टम हाउस में रखा महिला का शव, जांच करती पुलिस - Dainik Bhaskar
पोस्टमार्टम हाउस में रखा महिला का शव, जांच करती पुलिस
  • रविवार को मूर्ति मोहल्ला गेंडेवाली सड़क पर गिरा था निर्माणाधीन छज्जा

ग्वालियर में निर्माणाधीन छज्जा गिरने और उसमें परिवार के तीन सदस्यों समेत चार लोगों के दबने के मामले में सोमवार को एक मौत हो गई है। मकान मालिक की पत्नी कृष्णा जोशी घायल थीं। पहले डॉक्टर उनको खतरे से बाहर बता रहे थे, पर देर रात अचानक उनकी सांसे उखड़ने लगीं। सोमवार सुबह 5 बजे महिला ने दम तोड़ दिया। घटना एक दिन पहले रविवार शाम गेंडेवाली सड़क मूर्ति मोहल्ला की है। शेष तीन घायलों की स्थिति ठीक है। पुलिस ने अस्पताल की सूचना पर शव को निगरानी में लेकर पोस्टमार्टम कराया है।

इस तरह हुआ था हादसा, नीचे गिरा छज्जा और मकान
इस तरह हुआ था हादसा, नीचे गिरा छज्जा और मकान

यह है पूरा मामला

  • गेंडेवाली सड़क मूर्ति मोहल्ला में रहने वाले अशोक जोशी के मकान का निर्माण कार्य चल रहा है। रविवार को छज्जे पर शौचालय बनवा रहे थे। उसी समय वहां छज्जे पर अशोक, उनकी पत्नी कृष्णा जोशी, बेटा और कारीगर रमाकांत भी मौजूद थे। तभी छज्जा कमजोर होने से वजन सह नहीं सका और अचानक भरभरा कर गिर पड़ा। छज्जे के साथ-साथ उस पर खड़े अशोक, कृष्णा, रमाकांत सहित चारों लोग भी नीचे आ गिरे। मलवा उनके ऊपर आकर गिरा तो वह सभी मलबे में दब गए। आस-पड़ोस के लोगों ने देखा तो तत्काल मदद के लिए दौड़े। इसी समय दमकल दस्ता भी पहुंच गया। मकान के मलबे में दबे लोगों को बाहर निकाला और अस्पताल पहुंचाया। जहां मकान मालिक की पत्नी कृष्णा की हालत गंभीर थी। क्योंकि सबसे आखिर में उसे ही निकाला गया था। सोमवार तड़के 5 बजे इलाज के दौरान कृष्णा की मौत हो गई है।

यह भी पढ़े

छज्जा गिरा, चार लोगों की जान पर बन आई:20 मिनट तक मलबे में फंसी रहीं 4 जिंदगी, लोगों ने निकालकर हॉस्पिटल पहुंचाया, बचाई जान

अचानक बिगड़ी तबीयत, मौत

  • JAH के ट्रॉमा सेंटर के ICU में भर्ती कृष्णा जोशी की हालत रविवार शाम से ही ठीक नहीं थी। रात 9 बजे तक लगा स्थिति कन्ट्रोल में है, लेकिन कुछ देर बाद अचानक उनकी हालत बिगड़ने लगी। सांसें उखड़ने लगीं। इसके बाद सोमवार तड़के महिला ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने JAH से मिली सूचना के बाद शव को निगरानी में लेकर पोस्टमार्टम कराया है। साथ ही मर्ग कायम कर लिया है।

सबसे ज्यादा देर तक मलबे में रहीं

  • मकान मालिक अशोक जोशी की पत्नी कृष्णा जोशी जब हादसा हुआ तो छज्जे पर अंदर की तरफ खड़ी थीं। छज्जा गिरा तो वह अंदर दब गईं। उनके ऊपर ढेर सारा सीमेंट, पत्थर व मलबा गिरा। जब लोगों ने बचाव कार्य किया तो वह सबसे नीचे और पीछे दबी थीं। इसलिए उनको निकालने में देरी हो गई। यही कारण था कि वह गंभीर घायल थीं।
खबरें और भी हैं...