• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • The Elder Brother Was Asking For A Share In The House, The Younger Sister brother Protested, Then The Elder Brother Fired Bullets, Two Injured

बंटवारे के लिए भाई-बहन को मारी गोली:मकान में हिस्सा मांग रहा था बड़ा भाई, छोटे बहन-भाई ने विरोध जताया, तो कर दी फायरिंग; दोनों घायल

ग्वालियर6 महीने पहले
अस्पताल में घायल पड़े बहन-भाई।

मकान में हिस्सा मांग रहे बड़े भाई ने दो छोटे बहन-भाई को गोली मार दी। घटना नदीपार टाल तृप्ति नगर थाटीपुर की है। ताबड़तोड़ गोलियां चलाने के बाद हमलावर भाई अपने साले के साथ फरार हो गया। ताबड़तोड़ फायरिंग में घायल भाई-बहन को गंभीर हालत में JAH के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है। हमलावर मकान में दो कमरे ज्यादा मांग रहा था। छोटे भाई-बहन ने इसका विरोध जताया। हमलावर हत्या के मामले में जेल में बंद था। कुछ दिन पहले जमानत पर आया है। घायलों की हालत गंभीर है। थाटीपुर थाना पुलिस ने हमलावर की तलाश शुरू कर दी है।

हमलावर सगा भाई सोनू शर्मा, जो अभी जमानत पर छूटकर आया है।
हमलावर सगा भाई सोनू शर्मा, जो अभी जमानत पर छूटकर आया है।

थाटीपुर के नदीपार टाल तृप्ति नगर निवासी ऊषा पत्नी स्व. राजकुमार शर्मा के तीन मंजिला मकान में हिस्सा होना था। इस मकान में ऊषा के साथ उसकी बेटी पूनम (23), बेटा रवि (21) व सास रहती है, जबकि बड़ा बेटा सोनू शर्मा कुछ दिन पहले तक घर में ही रहता था। घर में उसे एक कमरा दिया था। सभी के पास एक-एक कमरा था। अन्य कमरे किराए पर दिए हुए हैँ, जिससे घर का खर्च चल सके। बड़ा बेटा सोनू घर में दो कमरे चाहता था। सोनू अपराधिक छवि का है। वह हत्या के मामले में 4 साल से जेल में था। यहां उसकी पत्नी रहती थी। 15 दिन पहले ही वह जमानत पर छूट कर आया है। उसने घर में हिस्सा मांगा, लेकिन मां ने मना कर दिया। इस पर सोनू ने पत्नी को दिल्ली उसके मायके छोड़ दिया।

बंटवारे के लिए पंचायत भी बुला ली

गुरुवार को वह अपने साले के साथ नदीपार टाल घर पहुंचा। यहां मकान में हिस्से को लेकर पंचायत जोड़ दी। बड़े बुजुर्गों को बुलाकर बातचीत चल रही थी, तभी बड़े भाई सोनू ने कहा कि उसे मकान में दो कमरे चाहिए। वह अपना हिस्सा बेचना चाहता है। इस पर छोटे भाई ने विरोध किया। जिस पर सोनू का साले ने अभद्रता की। अभद्रता का विरोध बहन पूनम और भाई रवि ने जताया। इसी समय सोनू बाहर गया और पिस्टल लोड कर लाया। इसके बाद उसने ताबड़तोड़ गोलियां चला दीं।

सबसे पहले वह बहन के पास गया और उस पर एक के बाद एक तीन गोलियां चला दीं। बहन बाहर की तरफ भागी तो पीठ में उसे गोलियां लगी हैं, बहन को बचाने आए भाई को भी सोनू ने नहीं छोड़ा उसे भी गोली मार दी। ताबड़तोड़ फायरिंगके बाद दोनों फरार हो गए। घायल पूनम और रवि को परिजन पहले मुरार के निजी अस्पताल पहुंचे। उसके बाद जेएएच के ट्रॉमा सेंटर लेकर आए हैं। जहां उनकी हालत गंभीर है।

घटना स्थल जहां सिरफिरे बड़े भाई ने अपने ही छोटे बहन-भाई की हत्या करने चलाईं गोलियां
घटना स्थल जहां सिरफिरे बड़े भाई ने अपने ही छोटे बहन-भाई की हत्या करने चलाईं गोलियां

चार साल से जेल में था बड़ा भाई
बताया गया कि सोनू शर्मा चार साल से हत्या के केस में जेल में सजा काट रहा था। कुछ दिन पहले ही उसको जमानत मिली थी। वह घर आया, तो मकान को लेकर बहस हुई। इसके बाद वह 10 दिन पहले पत्नी को लेकर चला गया। पत्नी को मायके छोड़ने के बाद वह गुरुवार को हिस्सा मांगने पहुंचा था। वह मकान बेचना चाहता था, जबकि अन्य परिजन ऐसा नहीं चाहते थे।

ताबड़तोड़ गोलीबारी से दहशत
नदीपार टाल में ताबड़तोड़ गोलीबारी से भाई-बहन के घायल होने के बाद दहशत है। गोली चलाने वाला भी उनका बड़ा भाई है। बदमाश ने एक के बाद एक 5 गोलियां चलाई थीं। वहां कई लोग बैठे थे, लेकिन सोनू के टारगेट पर छोटी बहन पूनम थी। उसे बचाने आए भाई पर भी गोलियां दाग दीं। उसके सिर पर खून सवार था। मां ऊषा शर्मा ने भी बताया कि बड़ा बेटा सनकी है।

पुलिस का कहना
एसपी ग्वालियर अमित सांघी ने बताया कि एक बहन-भाई पर उसके ही सगे बड़े भाई ने गोलियां चलाई हैं। घायलाें को हॉस्पिटल में भर्ती कराकर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर लिया है। हमलावर की तलाश की जा रही है।

खबरें और भी हैं...