ग्वालियर में जूता फैक्ट्री में भीषण आग:कर्मचारियों ने छत से कूदकर बचाई जान; फायर ब्रिगेड की 72 गाड़ियों ने 9 घंटे में पाया काबू

ग्वालियर2 महीने पहले

ग्वालियर में जूता फैक्ट्री में भड़की आग देर रात काबू पा लिया गया। फायर ब्रिगेड की 72 गाड़ियों ने करीब 9 घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। आग बुझाने में एयरफोर्स की दमकलों की भी मदद ली गई। आग करीब 2 बजे फैक्ट्री में लगे बिजली का मीटर फटने से लगी। जिसने देखते ही देखते पूरी फैक्ट्री को चपेट में ले लिया। फैक्ट्री से धुएं के गुबार उठते दिखे।

फैक्ट्री में जूता-चप्पल बनाने के लिए प्लास्टिक, फॉम व केमिकल के साथ ही तैयार माल रखा हुआ था। जिसकी वजह से कुछ ही मिनटों में आग ने विकराल रूप ले लिया। आग इतनी भीषण थी कि फैक्ट्री में काम कर रहे कर्मचारी छत पर चढ़ गए और फैक्ट्री से लगी दूसरी इमारतों की छत पर कूद कर अपनी जान बचाई।

सूचना मिलते ही पुलिस और फायर बिग्रेड की टीम मौके पर पहुंच गईं और आग बुझाने की कोशिश की। आग के विकराल रूप को देखते हुए मालनपुर और एयरफोर्स से भी फायर ब्रिगेड बुलाई गईं। पुलिस का दावा है कि सभी मजदूर सुरक्षित निकाल लिए गए हैं।

आग लगने के बाद फैक्ट्री से निकलता धुआं
आग लगने के बाद फैक्ट्री से निकलता धुआं

केमिकल, फोम और प्लास्टिक से आग ने लिया भीषण रूप
हजीरा बिरला नगर इंडस्ट्रियल एरिया में प्लॉट नंबर-21 पर प्रियंका पॉलिमर्स नाम से जूता-चप्पल बनाने की फैक्ट्री है। फैक्ट्री संचालक का नाम अमित सूरी हैं। शनिवार को फैक्ट्री में जहां जूते-चप्पल बनाने के लिए माल भरा था, वहां अचानक आग लग गईं। गेट के पास आग तेजी से भड़क रही थी, जिससे अंदर मौजूद लोग फंस गए।

कर्मचारियों ने तत्काल फैक्ट्री मालिक को सूचना दी। साथ ही, पुलिस और दमकल दस्ते को फोन किया। आग करीब 2 बजे लगी थी। 20 मिनट के अंदर ही शहर की सभी फायर बिग्रेड मौके पर पहुंच गई थीं। मालनपुर और एयरफोर्स से भी फायर बिग्रेड को बुलाया गया था।

अंदर कर्मचारी फंसे थे, कूदकर बचाई जान
पता चला है कि आग लगने के समय फैक्ट्री में काम चल रहा था। अंदर 25 के करीब कर्मचारी फंसे थे। जैसे ही, आग बढ़ने लगी, तो वह छत की तरफ आए। आसपास कूदकर जान बचाई। अंदर आग से किसी के भी झुलसने की खबर नहीं है। हड़बड़ाहट में कुछ लोगों के गिरने से मामूली चोट जरूर लगी है।

जूता फैक्ट्री में आग लगने के बाद कर्मचारियों ने आसपास की छतों से कूद कर जान बचाई।
जूता फैक्ट्री में आग लगने के बाद कर्मचारियों ने आसपास की छतों से कूद कर जान बचाई।

त्योहार के सीजन के चलते भरा था माल
सोमवार से नवदुर्गा उत्सव के चलते त्योहारी सीजन की शुरुआत हो जाएगी। इसके बाद दशहरा-दीपावली और उसके बाद सहालग है, इसलिए प्रियंका पॉलिमर्स के मालिक ने नया स्टॉक मंगाया था। फैक्ट्री में काफी मात्रा में रॉ मटेरियल और तैयार प्रोडक्ट रखा था, जो आग में जल गया।

जनहानि नहीं हुई, सभी कर्मचारी सुरक्षित
फैक्ट्री मालिक के रिश्तेदार नरेश कुमार ने बताया कि फिलहाल यह तो नहीं बताया जा सकता कि आग कैसे लगी और अंदर कितना माल जलकर राख हो गया है। पर उन्होंने यह जरूर कहा कि घटना में कोई जनहानि नहीं हुई है। सभी कर्मचारी सुरक्षित हैं।

आग के कारण धुआं फैल गया। इसी काले धुएं में लोग फंस गए।
आग के कारण धुआं फैल गया। इसी काले धुएं में लोग फंस गए।
खबरें और भी हैं...