• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • The Girl Got Mad On The Road In The Middle Of The Night, Some Boys Were Lying Behind, When The ASP Came Out On Patrol, The Car Stopped, The Young Man Ran Away, The Girl Had Gone Out To Commit Suicide

ग्वालियर में ASP की सूझबूझ से वारदात टली:आधी रात सड़क पर बदहवास मिली युवती, कुछ लड़के भी पीछे पड़े थे, गश्त पर निकली ASP ने पूछा तो कहा- सुसाइड करने निकली थी

ग्वालियरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो

ग्वालियर में महिला पुलिस अधिकारी ASP हितिका वासल की सूझबूझ से युवती की आबरू और जान दोनों बच गई। पिता के ज्यादा शराब पीने और बार-बार डांटने से परेशान युवती सुसाइड करने घर से निकल आई। आधी रात को युवती को सड़क पर देख कुछ लड़के पीछे पड़ गए। इसी समय ASP वहां से गुजर रही थी।

जैसे ही, अफसर ने गाड़ी रुकवाई, तो लड़के भाग गए। युवती से पूछताछ की। पड़ाव थाना में बैठाकर काउंसलिंग की। जब वह सामान्य हो गई, तो परिजन को बुलाकर उसे सुपुर्द किया। साथ ही, परिजन को भी पुलिस ने समझाइश दी है कि वह आगे से उसे परेशान न करें।

शनिवार-रविवार दरमियानी रात करीब 1 बजे ASP हितिका वासल पुलिस गश्त चेक करने निकली थीं। वह नदी गेट इलाके में पहुंची ही थीं, तो उन्हें एक 20 से 22 साल की युवती बदहवास हालत में दिखाई दी। चार-पांच युवक उसका पीछा कर रहे थे। उन्होंने गाड़ी रुकवाई और युवती से पूछताछ की, लेकिन वह कुछ बोल नहीं रही थी। गाड़ी रुकते ही पीछा कर रहे युवक भाग गए। युवती को गाड़ी में बिठाकर तसल्ली दी। युवती ने घर की परेशानी के कारण घर छोड़ना और जान देने की इच्छा से घर बाहर निकलने की बात बताई।

मामले का पता चलते ही उन्होंने युवती की काउंसलिग की। थाना प्रभारी पड़ाव विवेक अष्ठाना को भी मौके पर बुलवाया। युवती पड़ाव के लक्ष्मणपुरा इलाके की रहने वाली है। पिता शराब पीकर मारपीट करते थे। इस पर वह डिप्रेशन में आ गई थी। पुलिस ने परिजन को थाने बुलवाकर समझाइश देने के बाद ही लड़की को परिजन के सुपुर्द किया है।

हो सकती थी गंभीर घटना
युवती रात 9 से 10 बजे के बीच घर से निकली थी। पहले एक पार्क के बाहर बैठी रही। फिर लगा कि किसी गाड़ी के नीचे आकर खुदकुशी कर ले। इसी धुन में वह चली जा रही थी, तभी लड़के पीछे पड़ गए। यदि महिला पुलिस अधिकारी समय पर नहीं पहुंचती, तो युवती के साथ गंभीर घटना हो सकती थी।

ASP हितिका वासल ने बताया कि मैं जब गश्त पर निकली, तो युवती आते दिखी। कुछ लड़के पीछा करते दिखे थे। आधी रात को युवती को देखकर गाड़ी रोकी। युवती घर से परेशान थी। उसकी काउंसलिंग कर उसे परिजन के सुपुर्द किया गया है।

कर्ज से परेशान व्यापारी को सुसाइड करने से बचाया:सोशल मीडिया पर दोस्त को भेजा मैसेज- जुआ-सट्‌टे के कारण 5 लाख का कर्ज हो गया है, अब आत्महत्या करने वाला हूं, कुछ ही देर में पहुंचकर बचा लिया

खबरें और भी हैं...