पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • The Heat Of Summer, This Electricity Is Going On It Again And Again, When The Energy Minister Reached CP Colony, The Officers Said Everything Is Fine, Transformer Found Bad

ऊर्जा मंत्री का रियलिटी चेक:ग्वालियर की सीपी कॉलोनी में रात में 5 घंटे बिजली गुल, पूछने पर अफसरों ने ठीक बता दिया; मंत्री सुबह खुद देखने गए तो ट्रांसफॉर्मर खराब मिला

ग्वालियर5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सीपी कॉलोनी में ट्रांसफार्मर खराब होने पर पहुंचे ऊर्जामंत्री, अपने सामने कराया सही - Dainik Bhaskar
सीपी कॉलोनी में ट्रांसफार्मर खराब होने पर पहुंचे ऊर्जामंत्री, अपने सामने कराया सही

ग्वालियर में इस समय गर्मी चरम पर है। पिछले तीन दिनों से प्रदेश में सबसे गर्म शहर ग्वालियर ही बना हुआ है। ऐसे में बिजली की खपत बढ़ गई है, जिससे बार-बार बिजली जाना और भी सितम ढहा रहा है। बुधवार रात मुरार के सात नंबर चौराहा, सीपी कॉलोनी और आसपास के इलाकों में 4 से 5 घंटे बिजली गुल रही। लोग रात भर बिजली विभाग के दफ्तर व अफसरों को फोन लगाते रहे, पर किसी ने नहीं सुनी। इससे लोगों में नाराजगी थी।

इसी सिलसिले में गुरुवार दोपहर खुद ऊर्जामंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने अफसरों से पूछा, तो उन्होंने सीपी कॉलोनी में सब ठीक होना बताया। इस पर ऊर्जामंत्री तोमर ने रियलिटी चेक किया। वह कॉलोनी में पहुंचे, तो लोग समस्याएं बताने लगे, जबकि अफसरों का कहना था कि कोई परेशानी नहीं है। हकीकत में यहां ट्रांसफार्मर खराब मिला। उन्होंने अधिकारियों को फटकार लगाई। ट्रांसफार्मर सही कराकर चालू कराया।

गुरुवार दोपहर ऊर्जा मंत्री तोमर रोशनीघर भी पहुंचे। यहां बैठक में अफसरों को हिदायत दी गई है कि गर्मी चरम पर है। ऐसे में बिजली की आपूर्ति प्रभावित न हो। लोग अभी कोरोना जैसी महामारी से बाहर भी नहीं निकले हैं। ऐसे में बिजली का ख्याल रखें। बिल में गड़बड़ी की शिकायतों का तत्काल निराकरण करने के लिए कहा है। साथ ही, समय पर उपभोक्ता के यहां बिजली का बिल पहुंचाने के लिए कहा है।

दोनों हाथों से दिव्यांग ठेला चालक को अपने हाथ से मास्क पहचाना, आर्थिक मदद दी
दोनों हाथों से दिव्यांग ठेला चालक को अपने हाथ से मास्क पहचाना, आर्थिक मदद दी

दिव्यांग को मास्क पहनाया, दी आर्थिक मदद

लौटते समय सात नंबर चौराहा के पास ऊर्जामंत्री को दोनों हाथ से दिव्यांग एक ठेले वाला मिला। उसे मेहनत करते देख वह उसके पास गए। वह मास्क नहीं पहने था, क्योंकि दोनों ही हाथ नहीं होने के कारण वह मास्क पहन ही नहीं सकता था। उसकी ईमानदारी और मेहनत देखकर ऊर्जा मंत्री तोमर काफी खुश हुए। खुद उसको मास्क पहनाया, तत्काल आर्थिक मदद की। यही नहीं, उसका राशन भी शुरू करवाया।

खबरें और भी हैं...