पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पत्नी को तेजाब पिलाने वाला दिल्ली से गिरफ्तार:24 दिन करता रहा देखभाल की नौटंकी, जांच में लापरवाही पर ASI सस्पेंड, TI को भी हटाया; महिला के भाई ने शिवराज से की इलाज करवाने की अपील

ग्वालियर12 दिन पहले
यह तस्वीर 17 अप्रैल को शशि की शादी की समय की है। लाल घेरे में आरोपी पति।

ग्वालियर के डबरा में 3 लाख रुपए के लिए पत्नी को तेजाब पिलाने वाले वीरेन्द्र कुमार जाटव को पुलिस ने बुधवार को दिल्ली से अरेस्ट कर लिया है। उसकी भाभी मिथलेश को भी गिरफ्तार किया है। दोनों को बुधवार शाम को जेल भेज दिया गया है। मामले में लापरवाही बरतने वाले एक ASI को सस्पेंड कर दिया गया है। वहीं, टीआई को हटा दिया है। पत्नी को एसिड पिलाने के बाद आरोपी 24 दिन से उसकी देखभाल का ड्रामा करता रहा। वह जानता था कि यदि पत्नी की बिना बयान दिए मौत हो गई, तो वह पुलिस से बच जाएगा, लेकिन दो दिन पहले पत्नी के बयान देने के बाद राज खुल गया। पुलिस उसे लेकर डबरा थाने आ गई है। घायल महिला के भाई ने इलाज कराने की मांग की है। साथ ही, घटना के पीछे की कहानी भी बयां की है।

यह तस्वीर महिला की शादी की है।
यह तस्वीर महिला की शादी की है।

यह है मामला
घाटीगांव सिमरिया निवासी शशि जाटव (22) की शादी 17 अप्रैल 2021 को डबरा के रामगढ़ निवासी वीरेन्द्र कुमार जाटव से हुई थी। मायके वालों ने 10 लाख रुपए तक खर्च किए थे। लॉकडाउन के बाद वीरेन्द्र को नई कार खरीदनी थी। इसमें उसे 3 लाख रुपए कम पड़ रहे थे। उसने पत्नी को मायके से रुपए लाने के लिए कहा। 27 जून की रात उससे फिर पैसे लाने के लिए कहा गया। इस बार मना करने पर पति ने हत्या के इरादे से शशि को जबरदस्ती एसिड पिला दिया। इसके बाद शशि तड़पने लगी।

यही नहीं, आरोपी ने ही उसे ग्वालियर में भर्ती कराया, लेकिन हालत खराब होने पर उसे दिल्ली रेफर किया गया था। इसके बाद मायके वालों ने डबरा थाने में दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज कराया। दिल्ली में दो दिन पहले शशि ने SDM के सामने बयान में पति द्वारा एसिड पिलाने की बात कही थी। इसके बाद राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य स्वाति मालीवाल द्वारा CM शिवराज सिंह को ट्वीट करने के बाद से यह मुद्दा चर्चित बना हुआ है।

यह भी पढ़ें

पति ने नई नवेली दुल्हन को तेजाब पिलाया :एसिड से गले से पेट तक कई अंग जले, दिल्ली में भर्ती; कार के लिए मायके से 3 लाख न लाने पर पीटता था पति, 3 माह पहले हुई थी शादी

भाई बोला- शादी के बाद से ही घुट रही थी बहन
घायल शशि के भाई योगेश ने बताया कि शादी के बाद से ही ससुराल में बहन को परेशान करना शुरू कर दिया था। वीरेन्द्र, पत्नी से ज्यादा अपनी भाभी व अन्य के साथ बैठता था। जब शादी तय हुई थी, तो हमें कुछ पता नहीं था। शादी से ठीक पहले भी उन्होंने रुपयों की मांग की थी। जिस पर हमें सिमरिया गांव में अपनी एक बीघा जमीन भी सस्ते में बेचनी पड़ी थी। हम नहीं जानते थे, यह दिन देखने को मिलेंगे।

इलाज के लिए शिवराज मामा से मदद की अपील
योगेश जाटव ने बताया कि अभी उनकी बहन का इलाज दिल्ली के सरकारी अस्पताल में चल रहा है। वहां उस स्तर का इलाज नहीं मिल पा रहा, जो मिलना चाहिए। हमारी इतनी हैसियत नहीं है कि हम उसका इलाज बड़े निजी अस्पताल में करा सकें। इसलिए मदद की दरकार है। उसने शासन, प्रशासन और सामाजिक संस्थाओं से मदद की अपील की है। साथ ही, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से अपील है कि अपनी भांजी को मरने से बचाएं और उसका इलाज करवाएं।

लापरवाही पर ASI सस्पेंड
देहात एएसपी जयराज कुबेर के मुताबिक घटना 27 जून की है। पीड़िता के परिजन डबरा थाने पहुंचे। यहां ASI ब्रह्म कुमार दीक्षित ने सिर्फ दहेज प्रताड़ना से संबंधित धाराओं के तहत केस दर्ज किया। FIR में तेजाब पिलाने से संबंधित धाराओं का जिक्र तक नहीं किया गया। जानकारी देने के बावजूद मामले के जांचकर्ता एएसआई ने 20 जुलाई तक न तो धाराएं बढ़ाईं और न ही पीड़िता का बयान दर्ज किए। इस तरह तत्काल एक्शन नहीं लेने और जांच में लापरवाही बरतने पर एएसआई को सस्पेंड कर दिया गया है। इसके अलावा रात को एसपी ने टीआई विनायक शुक्ला को लाइन अटैच कर दिया है।

जूते-चप्पल की दुकान पर काम करने वाले की ईमानदारी:जबलपुर में LIC कर्मी के बैग से गिरे 2 लाख रुपए लौटाए; पैसे वापस करने वाले ने कहा- किसी की अमानत को कैसे लगाता हाथ

खबरें और भी हैं...