• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • The Jawbone Did Not Open For The Girl For Six Years, The Doctors Of The District Hospital Operated Properly

कामयाबी:छह साल से युवती का नहीं खुलता था जबड़ा, जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने ऑपरेशन कर किया ठीक

ग्वालियरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • डॉक्टरों का दावा- जिला अस्पताल में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है

जिला अस्पताल के वरिष्ठ ईएनटी विशेषज्ञ डॉ. सुनील शर्मा की टीम ने एक युवती के जबड़े का ऑपरेशन कर उसे ठीक कर दिया। तीन घंटे चले इस ऑपरेशन की खासबात यह रही कि जबड़े के जिस हिस्से का ऑपरेशन किया जाना था उसे ब्लॉक देकर लोकल एनेस्थीसिया देकर सुन्न कर दिया गया। इससे मरीज ऑपरेशन के दौरान होश में रहा। शुक्रवार को यह युवती दुबारा अपना चेकअप कराने आई। अब उसका मुंह खुल रहा है और हर तरह का खाना खा रही है। डॉक्टरों का दावा है कि जिला अस्पताल में इस तरह का ऑपरेशन पहली बार किया गया है।

ब्लॉक लगाकर लोकल एनेस्थीसिया देकर किया ऑपरेशन 
महोबा के पंचम सिंह की 17 साल की बेटी नीलम का छह साल से मुंह नहीं खुलता था। वह ठीक से खाना तक नहीं खा पाती थी। जब वह मेरे पास जिला अस्पताल में आए। मैंने चेकअप करने के साथ कुछ जांच की तो पता चला कि जबड़े और सिर की हड्डी जुड़ी हुई है। इसके बाद मैंने, डॉ. अंकिता सक्सैना, एनेस्थीसिया विशेषज्ञ डॉ. रवि पाठक, डॉ. श्रद्धा गोस्वामी एवं स्टाफ नर्स साधना चतुर्वेदी के साथ मिलकर उस जगह पर ब्लॉक लगाकर लोकल एनेस्थीसिया दी, इससे जबड़े का वह हिस्सा सुन्न हो गया और मरीज होश में रहा। यह ऑपरेशन तीन घंटे चला। अब नीलम का मुंह पूरी तरह खुल रहा है और वह ठीक से खाना खा रही है। 
-जैसा (वरिष्ठ ईएनटी विशेषज्ञ डॉ. सुनील शर्मा )ने दैनिक भास्कर को बताया।

खबरें और भी हैं...