• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • The Servant Used To Rape The Owner's 14 year old Daughter, The Father Used To Threaten To Kill, The Painful Story Told To The Police In Datia

नौकर की हैवानियत, सहमी छात्रा ने छोड़ा घर:14 साल की लड़की से दुष्कर्म कर रहा था नौकर; पिता की हत्या की धमकी के डर से चुप रही, दतिया पुलिस को मंदिर पर बदहवास मिली

ग्वालियर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महाराजपुरा थाना में दर्ज हुआ है मामला, पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
महाराजपुरा थाना में दर्ज हुआ है मामला, पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया (फाइल फोटो)
  • पुलिस ने पहले आरोपी को पकड़ा, इसके बाद दर्ज की FIR

एक युवक ने अपने ही मालिक की 14 साल की बेटी के साथ दुष्कर्म किया। उसने लड़की को धमकाया कि किसी से कुछ कहा, तो पिता को मार डालेगा। लड़की 10वीं की छात्रा है। कुछ दिन पहले डरी-सहमी छात्रा घबराकर घर छोड़ कर भाग गई। करीब दो दिन दिन बाद वह दतिया में मंदिर के पास बदहवास हालत में पुलिस को मिली। पुलिस ने उसे वन स्टॉप सेंटर पहुंचाया। यहां काउंसलिंग के दौरान छात्रा ने नौकर की करतूत का खुलासा किया है।

दतिया पुलिस ने ग्वालियर पुलिस को मामले से अवगत कराया। दतिया में ही दुष्कर्म, पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। साथ ही, घटनास्थल ग्वालियर के महाराजपुरा थाना के डीडी नगर का होने पर केस डायरी महाराजपुरा पुलिस को भेजी है। ग्वालियर पुलिस ने मामले में आरोपी सुनील गुप्ता को पकड़ा, फिर सोमवार को FIR की है।

महाराजपुरा थाना क्षेत्र के डीडी नगर में ही गुरुकृपा नगर है। यहां स्वीट्स शॉप के संचालक रहते हैं। व्यवसायी की 14 वर्षीय बेटी सपना (बदला हुआ नाम) 10वीं की छात्रा है। छात्रा के पिता की शॉप व कारखाने में सुनील गुप्ता नौकरी करता है। अक्सर उसका घर आना-जाना रहता था। व्यवसायी भी उस पर विश्वास करता था। कुछ समय पहले छात्रा जब छत पर कपड़े उठाने गई थी, तो वहां सुनील पहले से ही कुछ काम कर रहा था। छात्रा को अकेला पाकर उसने लड़की को पकड़ लिया। मुंह दबाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। विरोध करने पर सुनील ने धमकाया कि उसने किसी से बताया, तो वह उसके पिता की हत्या कर देगा। इससे छात्रा डर गई और चुप रही। इसके बाद जब भी मौका मिलता सुनील उसे परेशान करता। अकेला देखकर उसके पास आकर अश्लील हरकत करता था।

14 फरवरी को घर छोड़कर चली गई छात्रा

14 फरवरी को व्यवसायी दुकान पर जा रहा था। मां भी किसी काम से बाहर गई थी। घर पर छात्रा अकेली थी। जाते समय व्यवसायी ने बेटी को बताया था कि शाम को सुनील अंकल घर पर किसी काम से आएंगे। इस पर छात्रा घबरा गई। उसे लगा कि वह उसके साथ फिर से दुष्कर्म करेगा। छात्रा घर छोड़कर चली गई। वह पहले भी दतिया जा चुकी थी, इसलिए बस स्टैंड से दतिया जाने वाली बस में सवार हो गई। यहां वह दो दिन तक एक मंदिर पर रही। मंदिर के बाहर वह पुलिस को मिली। इधर, ग्वालियर में भी परिवार वालों ने महाराजपुरा थाने में गुमशुदगी दर्ज करा दी। बदहवास हालत में बच्ची को देखने पर पुलिस ने उसे निगरानी में लिया।

दतिया पुलिस के सामने खुलासा

दतिया में मंदिर पर रात गुजारने के बाद भूखी-प्यासी छात्रा बदहवास हालत में पुलिस को मिली। पुलिस ने उसे वन स्टॉप सेंटर भेजा। जहां पर काउंसलिंग में घटना का खुलासा हुआ। इसके बाद उसके परिवार वालों को बुलाकर छात्रा को उनके सुपुर्द किया गया। दतिया पुलिस ने शून्य पर मामला दर्ज कर केस डायरी महाराजपुरा थाने भेज दी। इसके बाद दतिया पुलिस ने ग्वालियर पुलिस से संपर्क किया। परिजन छात्रा को लेने दतिया गए। आरोपी को गिरफ्तार कर महाराजपुरा थाने में भी केस दर्ज किया गया।

भागने से पहले पकड़ाया दुष्कर्म का आरोपी

जैसे ही घटना का पता लगा तो पुलिस ने बिना देर किए आरोपी सुनील गुप्ता के घर पर दबिश दी। आरोपी को भी पता चल गया था कि छात्रा ने उसके खिलाफ बयान दिया है। वह भागने की फिराक में था, लेकिन पुलिस ने समय रहते उसे पकड़ लिया। पुलिस ने आरोपी को पकड़ने के बाद इस मामले में महाराजपुरा थाना में मामला दर्ज किया है। महाराजपुरा CSP रवि भदौरिया ने बताया कि इस मामले में आरोपी को पकड़ने के बाद महाराजपुरा थाना में मामला दर्ज किया गया है। आरोपी ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया है।

खबरें और भी हैं...