• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • The Traders Of The City Were Cheated Of Lakhs By Luring Them To Earn Huge Profits In Worship Material, Then Came To Cheat, Were Caught

भगवान के नाम पर ठगने वाला जालसाज गिरफ्तार:शहर के व्यापारियों को पूजन सामग्री में मोटा मुनाफा कमाने का लालच देकर की थी लाखों की ठगी, फिर ठगने आया था, पकड़ा गया

ग्वालियर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पकड़ा गया आरोपी पीयूष शर्मा - Dainik Bhaskar
पकड़ा गया आरोपी पीयूष शर्मा
  • जनकगंज पुलिस को मिली सफलता

ग्वालियर में पूजन सामग्री की दुकान खुलवाकर मोटा मुनाफा कमाने नाम पर व्यवसायी को ठगने वाले आरोपी को जनकगंज थाना पुलिस ने मुखबिर की सूचना गिरफ्तार कर लिया है। वह मोटे गणेश मंदिर इलाके में किसी व्यापारी को ठगने आया था तभी पुलिस को सूचना मिली। जालसाज पुलिस को देखकर सड़क पर दौड़ पड़ा, लेकिन पुलिस जवानों ने उसका पीछा नहीं छोड़ा। एक मकान में छुपने के लिए घुसा और पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। आरोपी तीन साल से पुलिस को चकमा दे रहा था। अब पुलिस उससे ठगी के मामले में पूछताछ कर रही है।
जनकगंज TI संजीव नयन शर्मा ने बताया कि सूचना मिली थी कि 3 साल पहले व्यवसायी को लाखों रुपए का चूना लगाकर फरार हुआ आरोपी पीयूष शर्मा पुत्र दिनेश शर्मा निवासी खासगी बाजार मोटे गणेश मंदिर के पास देखा गया है। सूचना मिलते ही SI रोहित चौधरी को पुलिस जवान मुरारी, जसवीर, दिलीप व नारायण के साथ आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए पहुंचाया। पुलिस को देखते ही पीयूष ने दौड़ लगा दी और पुलिस को चकमा देने के लिए पड़ोसी के घर में जा घुसा, पुलिस भी उसका पीछा करते हुए पड़ोसी के घर जा पहुंची और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस पकड़े गए ठग को लेकर थाने पहुंची और पूछताछ शुरू कर दी है, कि उसने और किस-किसको ठगा है।
यह था मामला
- मदने की गोठ भाऊ का बाजार निवासी विपिन बिहारी पुत्र गिरधारी लाल गोयल व्यवसायी है। उनकी पूजन सामग्री व्रिकेता पीयूष शर्मा से पुरानी दोस्ती थी। वर्ष 2018 में पीयूष ने विपिन गोयल को पूजन सामग्री की दुकान खोलने की सलाह दी और बताया कि इस व्यवसाय में उसे मोटा मुनाफा होगा और सारा इंतजाम वह खुद करा देगा। उसकी बातों में आकर विपिन ने उसे पांच लाख रुपए तत्काल पूजन सामग्री मंगवाने के लिए दिए। इसके बाद वह चक्कर काटते रहे, लेकिन ना तो पूजन सामग्री आई और ना ही उसने उनके पैसे लौटाए। ठगी का शिकार हुआ पीड़ित थाने पहुंचा और मामले की शिकायत की। पुलिस ने उनकी शिकायत पर ठगी का मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी, लेकिन वह फरार हो गया।

खबरें और भी हैं...