• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • The Young Man Had Gone To The Party With Friends, The Fellow Ran Away Leaving Him At The Door In A State Of Unconsciousness, When The Family Reached The Hospital, The Doctor Said That He Is Dead

मौत की पार्टी...:दोस्तों के साथ पार्टी में गया था युवक, बेहोशी की हालत में दरवाजे पर छोड़कर भागे साथी, परिजन हॉस्पिटल लेकर पहुंचे तो डॉक्टर बोले यह तो मर चुका है

ग्वालियर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक अनिल मांझी, यह फूलबाग पर एक शोरूम में जॉब करते थे। दोस्त की बर्थडे पार्टी के बाद जिंदा ही नहीं लौटे - Dainik Bhaskar
मृतक अनिल मांझी, यह फूलबाग पर एक शोरूम में जॉब करते थे। दोस्त की बर्थडे पार्टी के बाद जिंदा ही नहीं लौटे
  • - उपनगर ग्वालियर के काशी नरेश की गली की घटना

ग्वालियर में एक युवक की संदिग्ध हालात में मौत हो गई है। दोस्तों के साथ पार्टी करने गए युवक को उसके तीन साथी बेहोशी की हालत में घर दरवाजे पर छोड़ गए। घटना ग्वालियर के काशी नरेश की गली स्थित पुरानी कलारी के पास की है। बेहोशी ही हालत में युवक को परिजन हॉस्पिटल लेकर पहुंचे तो वहां डॉक्टर ने नब्ज पकड़कर चेक किया और बोला यह तो मर चुका है। मामले की सूचना पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को निगरानी में लेकर मंगलवार दोपहर पोस्टमार्टम कराया है। परिजन ने मृतक के दोस्तों पर पार्टी में जहर देकर हत्या का आरोप लगाया है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस को शॉर्ट पीएम रिपोर्ट का इंतजार है। इसके अलावा बीते 24 घंटे में तीन अलग-अलग हादसों में तीन लोगों की मौत हुई है।

पोस्टमार्टम हाउस के बाहर खड़े मृतक के परिजन, मृतक के भाई दीपक ने हत्या का आरोप लगाया है
पोस्टमार्टम हाउस के बाहर खड़े मृतक के परिजन, मृतक के भाई दीपक ने हत्या का आरोप लगाया है

उपनगर ग्वालियर में काशी नरेश की गली निवासी 37 वर्षीय अनिल मांझी पुत्र भगवान दास मांझी फूलबाग स्थित शोरूम पर जॉब करता है। सोमवार को अनिल के साथ काम करने वाले युवक का बर्थ-डे पार्टी थी। जिसमें अनिल भी शामिल होने गया था। देर रात अनिल के साथ काम करने वाला मुकेश व दो अन्य दोस्त उसे बेहोशी की हालत में लेकर आए और घर के बाहर दरवाजे पर छोड़कर भाग गए। बेहोश युवक को उपचार के लिए परिजन निजी अस्पताल ले गए। जहां पर उसकी हालत गंभीर देखकर उसे JAH ले जाने को कहा। जयारोग्य अस्पताल में जब परिजन पहुंचे तो डॉक्टरों ने बताया कि यह तो मर चुका है। इसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई।ग्वालियर थाना पुलिस पहुंची और शव को निगरानी में लिया। मंगलवार दोपहर शव का पोस्टमार्टम कराया गया है।
भाई ने लगाया हत्या का आरोप
- मृतक के भाई दीपक मांझी ने आरोप लगाया है कि बर्थ डे पार्टी में उसके भाई अनिल को किसी ने जहर दिया है। उसे मुकेश और उसके दो साथियों पर संदेह है। पुलिस आरोपों की जांच कर रही है। साथ ही शॉर्ट पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है जिससे पता चल सके कि उसकी मौत कैसे हुई है।
अकेला था कमाने वाला, तीन बेटियों की थी जिम्मेदारी
- अनिल के भाई दीपक मांझी ने बताया कि वह घर में अकेला कमाने वाला था। मृतक की तीन बेटियां हैं बड़ी बेटी की उम्र 11 साल है और उससे छोटी सात साल तथा तीसरी की उम्र अभी डेढ़ साल है। वही पूरे घर का ख्याल रखता था। पुलिस ने मामले की जांच कर रही है।

युवती ने फांसी लगाकर दी जान
-उपनगर मुरार के सौदागर संतर निवासी व्यापारी छबी लाल अरोरा की 25 वर्षीय बेटी दिशा अरोरा ने फांसी लगाकर जान दे दी। घटना का पता मंगलवार सुबह चला। परिजन युवती को फांसी के फंदे से उतार कर अस्पताल लेकर पहुंचे, लेकिन डॉक्टरों ने जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। मामले का पता चलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच के बाद मर्ग कायम कर लिया है। मृतका के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। मुरार पुलिस जांच कर रही है कि दिशा ने यह कदम क्यों उठाया है। फिलहाल पता नहीं चला है कि किन कारणों के चलते उसने फांसी लगाकर जान दी है।
बाजार से आया और लगा ली फांसी
- गिरवाई गड्ढा वाला मोहल्ला निवासी सोनू सोलंकी (32) पुत्र सुरेश सोलंकी प्राइवेट जॉब करता है। सोमवार रात को वह बाजार से लौटकर आया और अपने कमरे में सोने जाने की कहकर चला गया। कुछ देर बाद जब परिजन खाने पर बुलाने के लिए कमरे में पहुंचे तो वह फांसी के फंदे पर लटका हुआ था। नब्ज टटोली तो काफी देर हो चुकी थी। मामले का पता चलते ही पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच के बाद मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है। खुदकुशी किन कारणांे से की है यह पता नहीं चल सका है।

खबरें और भी हैं...