पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • This Is Not A Drama To Show The Mirror To The Officers, Pradyuman Singh Climbed The Transformer Pole, Removed Bushes, Nests, Got Down And Said Be Ready For Administrative Surgery

खंभे पर चढ़े शिवराज के मंत्री, देखें VIDEO:ऊर्जा मंत्री तोमर ने ग्वालियर में ट्रांसफार्मर पर चढ़कर झाड़ियां और घोंसले किए साफ, बदले में बिजली कंपनी के 3 JE की रोकी वेतन वृद्धि, दो AE, समेत 5 को नोटिस

ग्वालियरएक महीने पहले
ट्रांसफार्मर के पोल पर चढ़कर कचरा साफ करते ऊर्जा मंत्री।
  • बिजली कंपनी के जनरल मैनेजर ने लापरवाही पर कर्मचारियों पर लिया एक्शन

कमलनाथ कैबिनेट में मंत्री रहते हुए नाली, गड्‌ढों में कूदकर सफाई व्यवस्था की पोल खोलने वाले प्रद्युम्न सिंह तोमर अपने कार्यों से चर्चा में रहते हैं। ऊर्जा मंत्री ताेमर शुक्रवार को ट्रांसफार्मर और पोल पर चढ़कर अनोखे अंदाज में सफाई व्यवस्था की पोल खोलते दिखे।

शुक्रवार सुबह मोतीझील बिजली कंपनी के कार्यालय पर निरीक्षण कर लौट रहे मंत्री को कार्यालय के सामने ट्रांसफार्मर पर चिड़ियाें का घोंसला, झाड़ियां, बेल उगी दिखीं। यहां रुकने के बाद ऊर्जा मंत्री तोमर ने अफसरों के सामने पहले आंखे तरेरीं और उनको आईना दिखाने खुद सीढ़ी मंगाकर ट्रांसफार्मर पर चढ़ गए। उन्होंने खुद झाड़ियों को साफ किया। नीचे उतरकर ऊर्जा मंत्री ने कहा कि मेंटेनेंस की हकीकत दिख रही है। दोषी कर्मचारी प्रशासनिक सर्जरी के लिए तैयार रहें। इस मामले में बिजली कंपनी के शहर सर्कल के GM विनोद कटारे ने 3 जूनियर इंजीनियर की वेतन वृद्धि रोकी है। साथ ही दो AE और तीन सहायक यंत्री सहित 5 को नोटिस देकर जवाब मांगा है।

मोतीझील पर अफसरों की क्लास लेने के बाद ट्रांसफार्मर पर चढ़ने की तैयारी करते ऊर्जामंत्री तोमर
मोतीझील पर अफसरों की क्लास लेने के बाद ट्रांसफार्मर पर चढ़ने की तैयारी करते ऊर्जामंत्री तोमर

बिजली कंपनी साल में दो बड़े मेंटेनेंस करती है। एक प्री-मानसून और दूसरा पोस्ट-मानसून। प्री-मानसून में ज्यादातर यही होता है कि ट्रांसफार्मर की प्रॉपर सर्विस के साथ-साथ ट्रांसफार्मर, पोल व तारों के आसपास पेड़ की झाड़ियां, चिड़ियों के घोसले हटाए जाते हैं। इससे मानसून के समय ट्रिपिंग का कारण यह झाड़ियां और पेडों की डाले न बनें।

इस कारण घंटों बिजली गुल रहने पर जनता परेशान होती है। पर इसकी जमीनी हकीकत शुक्रवार सुबह उस समय दिखाई दी, जब प्रदेश के ऊर्जामंत्री अपने गृह जिला में विद्युत कंपनी के मोतीझील कार्यालय पहुंचे। वह सुबह औचक निरीक्षण के मूड में गए थे। पर वह उस समय दंग रह गए जब देखा कि कार्यालय के सामने ट्रांसफार्मर पर झाड़ियां उग रहीं थीं। चिड़िया का पुराना घोसला बना था। इस पर वह काफी नाराज हुए।

खुद ट्रांसफार्मर पर चढ़े
इसके बाद ऊर्जा मंत्री तोमर ने सीढ़ी मंगाई, करंट से बचने रबर ग्लब्ज पहने और ट्रांसफार्मर पर चढ़ गए। जब मंत्री सीढ़ी पर चढ़े थे तो अफसरों के सिर नीचे झुके थे। मंत्री ने चिड़िया का पुराना घोसला हटाया, झाड़ियां हटाकर सफाई की।

ऊर्जा मंत्री का पोल पर चढ़ना इनको पर गया भारी

शुक्रवार को ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर द्वारा मोतीझील 11KV फीडर के डिस्ट्रीब्यूशन ट्रांसफार्मर पर चढ़ रही बेल और घोंसला को खुद सीढ़ी पर चढ़कर उतारा था। बिजली कंपनी के मैदानी अमले की लापरवाही पर GM शहर सर्कल विनोद कटारे कड़ा एक्शन लिया गया है। इस लापरवाही के लिए 3 जूनियर इंजीनियर रोहित अग्निभोज, गोविंद एरोन एवं अंशु सक्सेना की एक वेतन वृद्धि रोके जाने और कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। साथ ही 2 कार्यपालन यंत्री अमरेश शुक्ला, पीयूष हजेला, 3 सहायक यंत्री हिमांशु शर्मा, शैलेन्द्र पटले एवं नितिन यादव से स्पष्टीकरण मांगा गया है। साथ ही सभी अधिकारियों को चेतावनी दी गई कि आगे से ऐसी लापरवाही सहन नहीं कि जाएगी।

अब प्रशासनिक सर्जरी के लिए तैयार रहिए

प्रमुख सचिव, मध्य क्षेत्र, पश्चिम क्षेत्र के एमडी और अन्य अफसरों से कहना चाहूंगा कि मैं कहीं भी निरीक्षण करुंगा। यदि मेंटेनेंस में इस तरह की लापरवाही सामने आई तो किसी को नहीं छोडूंगा। कड़ी कार्रवाई होगी। अब बिजली विभाग प्रशासनिक सर्जरी के लिए तैयार रहे।

प्रद्युम्न सिंह तोमर, ऊर्जा मंत्री, मध्यप्रदेश

खबरें और भी हैं...