• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Those who defeat infections are now paying special attention to cleanliness and eating, exercise is also a part of routine

लोगों के लिए सबक / संक्रमण को हराने वाले अब सफाई और खाने पर दे रहे विशेष ध्यान, व्यायाम भी दिनचर्या का हिस्सा

Those who defeat infections are now paying special attention to cleanliness and eating, exercise is also a part of routine
X
Those who defeat infections are now paying special attention to cleanliness and eating, exercise is also a part of routine

  • छोटी-छोटी चीजों की अनदेखी से संक्रमित हुए ये 5 शख्स अब नए तरीके से जी रहे जिंदगी
  • आपकी छोटी सी लापरवाही दे सकती है संक्रमण को न्योता

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 05:47 AM IST

ग्वालियर. (अंशुल वाजपेयी) कोरोना वायरस के कारण सामाजिक ताना-बाना प्रभावित हुआ है। संक्रमण के चलते कहीं लोगों में सकारात्मक बदलाव आए तो कहीं नकारात्मक। दैनिक भास्कर ने कोरोना वायरस को हरा चुके योद्धाओं से बातचीत कर जाना कि इस महामारी के बाद उनके जीवन में क्या-क्या परिवर्तन आए? ये वो लोग हैं, जो ट्रक, बस, अस्पताल होटल और घर के बाहर दूध लेते वक्त संक्रमित हुए लेकिन अस्पताल में इलाज के बाद अब स्वस्थ हैं। बातचीत में इन योद्धाओं ने बताया कि साफ-सफाई को लेकर लोगों की धारणा में खासा बदलाव आया है। पहले जहां साफ-सफाई पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया जाता था, लेकिन बीते ढाई महीने में तस्वीर इसके ठीक उलट होती दिख रही है। जो लोग पहले केवल अपनी साफ-सफाई पर ध्यान देते थे। वे अब घर में भी साफ-सफाई को विशेष तवज्जो दे रहे हैं।

 घर से बाहर निकलते वक्त मास्क लगाना भी लोगों की आदत में शुमार हो रहा है। यहां तक की अब जेब में सेनिटाइजर की बोतल रखना आम चलन सा हो गया है। इस संक्रमण से लड़ने के लिए लोग अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए व्यायाम भी कर रहे हैं। 

लोगों के लिए सबक.. आपकी छोटी सी लापरवाही दे सकती है संक्रमण को न्योता
राजेश योगी (25)


मुंबई में निजी बैंक में कार्यरत राजेश योगी (25) भाई रामजीलाल के साथ ट्रक से लौटे थे। 11 मई को दोनों की रिपोर्ट पाॅजिटिव आई। अब वह स्वस्थ हाेने के बाद घर पर हैं।

  • कहां गलती हुईः मुंबई से ग्वालियर ट्रक से आए। इस दौरान ही संक्रमण की चपेट में आए। मास्क और सेनिटाइजर का उपयोग किया था, लेकिन कहीं न कहीं लापरवाही बरती होगी।
  • जीवन में क्या बदलाव आयाः साफ-सफाई को लेकर ज्यादा सजग हो गया हूं। कपड़े और बर्तन भी साफ कर रहा हूं।   
  • सबकः मास्क लगाएं। शारीरिक दूरी बनाएं।

डॉ. उमेश कुमार (27)


जीआरएमसी के मेडिसिन विभाग के प्रथम वर्ष (पीजी) के छात्र आईसीयू में ड्यूटी पर थे। डाॅ. आकाश के पाॅजिटिव आने के बाद उनका भी सैंपल लिया गया था। 

  • कहां गलती हुईः मरीजों का चेकअप करते समय कुछ लापरवाही रही होगी। 
  • जीवन में क्या बदलाव आयाः रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए व्यायाम करना शुरू कर दिया है। समय पर भोजन, उसमें हेल्दी डाइट को शामिल कर लिया है। 
  • सबकः खाने की अनदेखी न करें। स्वास्थ्य को प्राथमिकता दें। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएं।

विजयराम कुशवाह (28)


अहमदाबाद से पत्नी फूलनदेवी और दो बच्चों के साथ बस से ग्वालियर आए। 15 मई को पति-पत्नी दोनों की रिपोर्ट पाॅजिटिव आई। 

  • कहां गलती हुईः अहमदाबाद से आते समय एक स्लीपर बस में मेरे व पत्नी के अलावा तीन अन्य लोग भी थे। संभवतः उन्हींं के कारण संक्रमण हुआ।
  • जीवन में क्या बदलाव आयाः पत्नी के साथ खुद भी घर की साफ-सफाई करता हूं। घर में अंदर आने वाले के पहले हाथ धुलवाते हैं। बाहर जाने पर हैंड सेनिटाइजर साथ रहता है। 
  • सबकः सब्जियों व अन्य सामान को धोएं या सेनिटाइज करने के बाद ही इस्तेमाल करें। 

अभिषेक मिश्रा (36)


मार्च में छतरपुर से टूर कर लौटे। 21 मार्च को अस्पताल में भर्ती हुए। 24 को रिपोर्ट पाॅजिटिव आई।  

  • कहां गलती हुईः होटल के कमरे में पहुंचते ही नाक व गले में तकलीफ हुई। स्टाफ ने कमरे को सेनिटाइज नहीं किया, सिर्फ बेडशीट बदली। संभवतः मुझसे पहले जो लोग उस कमरे में रुके थे, उनके कारण मुझे संक्रमण हुआ। 
  • जीवन में क्या बदलाव आयाः साफ-सफाई को लेकर पहले से ज्यादा जागरुक हो गया हूं। घर के दरवाजे, हैंडिल से लेकर चार पहिया वाहन को सेनिटाइज करता हूं। 
  • सबकः लापरवाही नहीं बरतें, खुद को बचाने को ही देश सेवा मानें।

बबीता वर्मा (50)


ढोलीबुवा पुल निवासी बबीता वर्मा की रिपोर्ट 7 अप्रैल को पॉजिटिव आई थी।  

  • कहां गलती हुईः खाली पेट दूध लेने घर से बाहर गई। मास्क भी नहीं लगा था। आने के कुछ देर बाद ही तबीयत खराब हो गई। 
  • जीवन में क्या बदलाव आयाः लोग ढंग से बात नहीं करते। दूध वाला टंकी पर दूध का बर्तन रख देता है। सब्जी या अन्य सामान लेने घर से बाहर जाती हूं, तो लोग ऐसे इधर-उधर हो जाते हैं, जैसे कोई सांप-बिच्छू आ गया हो। 
  • सबकः किसी से बात करते समय दूरी पर ही खड़े रहे। मास्क का उपयोग करें। बाहर से घर पहुंचने पर अच्छे से हाथ, पैर साफ करें। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना