• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Three Youths Were In An Objectionable Condition With Two Women, 3 Women From The Base, 10 Youths Were Caught, Two Elderly People Were Also Involved In Prostitution

सेक्स रैकेट में 2 बुजुर्ग गिरफ्तार:ग्वालियर में दो मंजिला मकान में चल रहा था देह व्यापार, तीन महिलाओं समेत 10 अरेस्ट

ग्वालियरएक महीने पहले
मुरार थाने में बैठी सेक्स रैकेट में पकड़ी गईं महिलाएं। इनके साथ 10 पुरुष भी पकड़े गए हैं।

ग्वालियर के मुरार में पुलिस ने सेक्स रैकेट पकड़ा है। पुलिस ने तीनों महिलाओं के अलावा 10 पुरुषों को गिरफ्तार किया है। इनमें 2 बुजुर्ग हैं। सूचना के बाद जब पुलिस दो मंजिला मकान में पहुंची तो एक ही कमरे में दो महिलाओं के साथ तीन युवक आपत्तिजनक हालत में मिले। ऊपरी मंजिल पर भी एक महिला और 7 लोग मिले।

रैकेट दो साल से प्रीतम माहौर के घर उसकी पत्नी के इशारों पर चल रहा था। सेक्स रैकेट में शामिल महिलाएं और यहां आने वाले ग्राहक स्थानीय ही हैं। पकड़ी गई दो महिलाएं शादीशुदा हैं। घर की हालत ठीक न होने पर उन्होंने देह व्यापार शुरू किया था। पुलिस देर रात ही सभी को थाने लाई और रिपोर्ट दर्ज की।

मुरार थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि जडेरूआ डैम के पास प्रीतम माहौर के मकान में सेक्स रैकेट चल रहा है। जांच में शिकायत सही मिली। इस पर बुधवार देर रात मुरार थाना प्रभारी शैलेंद्र भार्गव ने महिला पुलिस फोर्स के साथ प्रीतम के मकान पर दबिश डाली। पुलिस ने अपना एक जवान ग्राहक बनाकर अंदर भेजा। एक कमरे में दो महिलाएं तीन पुरुष के साथ आपत्तिजनक हालत में मिलीं। आगे के कमरों में पहुंचे तो वहां मकान मालिक की पत्नी गीता माहौर मिली और वहां 7 लोग भी मिले।

ये पकड़े गए
सेक्स रैकेट के अड्‌डे से मकान मालिक और पूरे रैकेट की मास्टरमाइंड गीता के अलावा दो महिलाएं पकड़ी गईं। दोनों की उम्र 35 साल है। वहीं, मौके से पकड़े गए युवकों ने अपने नाम डोंगर सिंह, रितेश, स्वदेश, मुन्ना लोधी, गब्बर माहौर, गब्बर गुर्जर, आकाश जैन, रवि राठौर, सोनू चंदेल, रोहित जाटव बताए हैं। गीता अड्‌डा चलाती थी और मुन्ना लोधी ग्राहक लाता था।

महिलाओं को देते थे आधा पैसा
देह व्यापार करने वाली महिलाओं को कस्टमर से मिलने वाले रुपयों में से आधा पैसा मिलता था। जैसे कोई 500 रुपए में कोई ग्राहक तैयार हुआ तो 250 रुपए देह व्यापार करने वाली महिला का होता था और 250 रुपए रैकेट की सरगना गीता माहौर के रहते थे। यहां से पकड़े गए लोगों ने बताया कि 400 से 600 रुपए में एक बार कमरे में जाने की इजाजत मिल जाती थी।

2 साल से चल रहा था रैकेट
पुलिस को पूछताछ में पता लगा है कि कुछ लोग तो यहां दो साल से ज्यादा समय से आ रहे हैं। लगभग दो साल से जडेरूआ में यह सेक्स रैकेट चलने की सूचना मिली है। पूछताछ में लोगों ने बताया है कि अड्‌डा 24 घंटे चालू रहता है।

युवाओं के साथ बुजुर्ग भी आते थे रेग्यूलर
देह व्यापार के अड्‌डे पर पहुंचने वालों में जहां 19 से 20 साल के लड़के, 40 साल के युवकों के साथ-साथ 55 से 60 साल के अधेड़ और बुजुर्ग भी आते थे। पकड़े गए लोगों में एक की उम्र 55 तो दूसरे की 61 साल है। इनमें से एक बुजुर्ग लड़कियों के लिए कस्टमर लाने का काम करता था।

खबरें और भी हैं...