शोध के लिए लिया जाएगा ब्लड सैंपल:वयस्कों में एंटीबॉडी का पता लगाने के लिए सैंपल लेकर करेंगे जांच

ग्वालियर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बच्चों के बाद गजराराजा मेडिकल कॉलेज का माइक्रोबायोलॉजी विभाग पर वयस्कों में एंटीबॉडीज की ताकत का पता लगाने के लिए अगले सप्ताह से शोध करने जा रहा है। इसमें चार अलग-अलग श्रेणी के 200 लोगों के चार बार सैंपल छह माह की अवधि में लिए जाएंगे। सैंपल की जांच कर एंटीबॉडीज का पता किया जाएगा। इस विषय पर शोध करने के लिए मेडिकल कॉलेज की एथिकल कमेटी से भी अनुमति मिल चुकी है। इस शोध में डॉ. सविता भरत, डॉ. वैभव मिश्रा, डॉ.ऋषिका खेतान और मनोज बंसल की अहम भूमिका रहेगी। इस शोध में ब्लड सैंपल लिया जाएगा और न्यूट्रिलाइजिंग एंटीबॉडी टेस्ट किया जाएगा।

जानिए... कब-कब लिए जाएंगे सैंपल
200 सैंपल में से 50 ऐसे लोगों के होंगे जो 90 दिन में कोरोना की चपेट में आए हों। 50 वे लोग होंगे, जिनके परिवार का कोई सदस्य संक्रमित हुआ। अन्य 50 सैंपल ऐसे लोगों के लिए जाएंगे, जिन्हें वैक्सीन के दोनों डोज लग चुके हैं। अंतिम 50 वे लोग होंगे जो ना तो कभी संक्रमित हुए हैं और ना उन्होंने वैक्सीन का एक भी डोज लगवाया है। पहला सैंपल अगले सप्ताह लिया जाएगा। जबकि दूसरा सैंपल एक माह बाद लिया जाएगा। तीसरा सैंपल तीसरे माह और चौथा सैंपल छठवें माह लिया जाएगा। डॉ. वैभव मिश्रा ने बताया कि चारों सैंपलों का अध्ययन करने के बाद एंटीबॉडीज का पता चलेगा।

खबरें और भी हैं...