• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Two Friends Had Flown In Mohana, The Body Of Another Friend Was Found Trapped In The Bushes In The Drain After 5 Days, People Were Angry About The Police

बाढ़ में बहे थे दो दोस्त, TI लाइन हाजिर:मोहना में बहे थे दो दोस्त, दूसरे का शव 5 दिन बाद नाले में झाड़ियों में फंसा मिला, लोगों में पुलिस को लेकर था गुस्सा

ग्वालियर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मोहना में बाढ़ देखने गए दो दोस्त पांच दिन पहले बहे थे, दोनों के शव मिल गए हैं - Dainik Bhaskar
मोहना में बाढ़ देखने गए दो दोस्त पांच दिन पहले बहे थे, दोनों के शव मिल गए हैं
  • 2-3 अगस्त की रात को मोहना में बाढ़ देखने गए दो दोस्त डूब गए थे

ग्वालियर के मोहना में पांच दिन पहले पार्वती नदी के उफान में बहे दो दोस्तों में से दूसरे दोस्त का शव शनिवार को 5 दिन बाद मोहना के नाले में झाडि़यों में फंसा मिला है। एक का शव घटना के अगले ही दिन मिल गया था। इस शव के न मिलने पर स्थानीय लोगों में काफी गुस्सा था। प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट का रास्ता रोकने से लेकर सड़क पर चक्काजाम तक किया था। पुलिस के खिलाफ लोगों में काफी गुस्सा था। यही वजह रही कि शनिवार को मोहना थाना TI महेश शर्मा को लाइन अटैच कर दिया गया है।

मोहना बाजार निवासी हेमंत शिवहरे (26) व मोनू राठौर (27) ढाबा संचालन का काम करते थे। 2-3 अगस्त की रात वह अपनी कार से बरसात के कारण पार्वती नदी में आए उफान को देखने के लिए आए थे, लेकिन लौटते समय बहाव में उनकी कार बह गई और दोनों दोस्त भी उसके साथ बह गए। हालांकि अगले दिन कार से करीब कुछ दूरी पर मोनू का शव पत्थर में फंसा मिल गया था, लेकिन हेमंत का कुछ अता पता नहीं चला। पिछले 5 दिनों से लगातार गोतखोर उसकी तलाश में जुटे थे, पर कुछ पता नहीं चल रहा था। शनिवार को 5 दिन बाद मोहना बिजलीघर के पास नाले में उसका शव मिला। शव मिलने का पता चलते ही परिजन मौके पर पहुंचे और उसकी शिनाख्त की। इसके बाद शव का पोस्टर्माटम कराया गया।

डेढ़ किलोमीटर दूर महूअर नदी के पास मिला शव

  • पिछले 5 दिन से पुलिस हेमंत की तलाश कर रही थी। इसके लिए स्टीमर चलवाएं, नाव भी चलवाई, खेत से पानी भी निकलवाया लेकिन हेमंत का पता नहीं लग रहा था। हरसी बांध, सुल्तानगढ़, पार्वती नदी सभी में तलाश करवाया, लेकिन पता नहीं चला। जब पानी कुछ कम हुआ तो जिस जगह बहे उससे करीब डेढ किलोमीटर दूर महुअर नदी के पास एक खेत किनारे नाले की झाडिय़ों मे हेमंत का शव मिला। जब ग्रामीण फसल देखने पहुंचे तो उन्होंने पुलिस को बताया। इसके बाद पुलिस मौके पर गई और शव को निगरानी में लिया।

प्रभारी मंत्री का रास्ता रोककर जताई थी नाराजगी

  • मोहना TI महेश शर्मा की कार्यप्रणाली को लेकर इलाके के कुछ लोगो ने प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट के मोहना निरीक्षण के दौरान रास्ता रोककर शिकायत की थी। उनसे कहा था कि टीआई फोन ही नहीं उठाते। उधर दोनों युवकों के परिजनों का भी पुलिस के प्रति आक्रोश था। जिस कारण मोहना थाना प्रभारी को लाइन अटैच किया गया है।
खबरें और भी हैं...