पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Vaccination: Youth Not Reaching JAH For Offline Registration If Online Slot Booking Is Not Available

उत्साह ज्यादा, वैक्सीन कम:वैक्सीन के लिए ऑनलाइन स्लॉट बुकिंग नहीं मिल रही तो ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन कराने जयारोग्य अस्पताल पहुंच रहे युवा

ग्वालियरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए कहत� - Dainik Bhaskar
ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए कहत�
  • सिर्फ अभी JAH में ही बनाया गया है 18+ उम्र वालों के लिए सेंटर

ग्वालियर में 18+ उम्र वालों के लिए वैक्सीन लगवाना किसी संघर्ष से कम नहीं है। युवाओं में उत्साह काफी ज्यादा है, लेकिन शासन के पास वैक्सीन कम हैं। यही कारण है कि हर दिन सिर्फ 100 युवाओं को वैक्सीन लगाई जा रही है। हालत यह है कि ऑनलाइन स्लॉट बुकिंग नहीं मिल रही है। ऐसे में JAH (जयारोग्य अस्पताल) में 18+ उम्र वाले ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए भी पहुंच रहे हैं। पर उन्हें समझाया जा रहा है कि उनके लिए ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था नहीं है।

18+ उम्र वालों के लिए वैक्सीनेशन के तीसरे दिन शुक्रवार को JAH में सुबह से ही युवा पहुंच गए। सुबह 7 से 8 बजे के बीच काफी भीड़ वहां हो गई थी, जबकि 9 बजे से वैक्सीन लगनी थी। सुबह 11 बजे तक जिनके स्लॉट बुक थे उनको वैक्सीन लगाई गई। 11 बजे तक करीब 25 युवा वैक्सीन लगवा चुके थे। जिन्होंने वैक्सीन लगवाई वह काफी खुश नजर आए।

जिले में अभी 18+ उम्र वालों की संख्या लगभग 10 लाख से अधिक है। इसमें 18 से 44 साल के लोग शामिल हैं। इनको वैक्सीन की शुरूआत तो हो चुकी है, लेकिन वैक्सीन कम है और संख्या ज्यादा इसलिए हर दिन सिर्फ 100 लोगों को ही वैक्सीन लगाई जा रही है। इनको भी ऑनलाइन स्लॉट बुक करना पड़ता है। पर वैक्सीन का उत्साह इतना ज्यादा है कि तीसरे दिन भी सुबह 7 से 7.30 बजे के बीच आधा सैकड़ा युवा JAH के वैक्सीनेशन सेंटर पर पहुंच गए थे। इसमें ज्यादातर ऐसे लोग थे जिनको ऑनलाइन स्लॉट बुकिंग नहीं मिली थी, लेकिन वैक्सीन को लेकर उत्साह उन्हें यहां तक खींच लाया। यहां JAH में वह ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए बहस करते नजर आए। जब उन्हें समझाया गया कि 18+ उम्र वालों के लिए ऑफलाइन की कोई व्यवस्था नहीं है तो पहले बहस की, लेकिन बाद में निराश लौटना पड़ा।

वैक्सीन का तीसरा दिन, टीका लगवाता एक युवा।
वैक्सीन का तीसरा दिन, टीका लगवाता एक युवा।

वैक्सीन के बाद चेहरे पर दिखी खुशी

थाटीपुर निवासी शशांक गुप्ता अभी 27 साल के हैं। उनका कहना है कि वह वैक्सीन लगवाने के बाद काफी खुश हैं। राहत भी महसूस कर रहे हैं। क्योंकि अभी बाहर जिस तरह का माहौल है उसमें वैक्सीन लगवाना बेहद जरूरी हो गया है। हमें किसी न किसी काम से बाहर निकलना पड़ता है तो वैक्सीन से खतरा कम हो जाता है। उन्होंने सभी युवाओं को सलाह दी है कि वह जल्द से जल्द वैक्सीन लगवाएं और घर में ही रहें।

बाहर धूप है बुजुर्गो के बैठने की कोई व्यवस्था नहीं

छात्र शशांक का कहना है कि बाहर वैक्सीन लगवाने वालों की भीड़ लगी है। युवाओं के अलावा एक लाइन बुजुर्गो की भी है। कोई सुबह 7 बजे से आ गया था तो कोई 8 बजे से बाहर खड़ा था। पर उनके बैठने के लिए कोई इंतजाम नहीं है। बाहर लोग परेशान हो रहे हैं कम से कम बुजुर्गो के बैठने की व्यवस्था की जानी चाहिए।

11 बजे तक 600 को लग गई थी वैक्सीन

शुक्रवार सुबह 11 बजे तक शहर में 600 लोगों को वैक्सीन लग चुकी थी। JAH सेंटर पर 18+ उम्र 25 लोगों को वैक्सीन लग चुकी थी। यह स्पीड रही तो दोपहर 2 बजे तक 100 का टारगेट पूरा हो जाएगा।

JAH में वैक्सीनेशन के लिए बाहर धूप में लाइन लगाकर खड़े 18+ उम्र वाले युवा
JAH में वैक्सीनेशन के लिए बाहर धूप में लाइन लगाकर खड़े 18+ उम्र वाले युवा
खबरें और भी हैं...