बारिश का असर:सड़कों पर जल का जाम; 24 घंटे में 8.20 लुढ़का पारा, दृश्यता 300 मीटर

ग्वालियर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पुराने पड़ाव पुल के पास भरे बारिश के पानी में से निकलते राहगीर। - Dainik Bhaskar
पुराने पड़ाव पुल के पास भरे बारिश के पानी में से निकलते राहगीर।
  • सीजन में पहली बार 15 घंटे 13 से 140 पर स्थिर रहा पारा
  • दिन-रात के तापमान में महज 2.8 डिग्री का अंतर, दिन का पारा सामान्य से 8 डिग्री नीचे हुआ दर्ज

बारिश की झड़ी लगने से गुरुवार काे शहर में जल का जाम रहा। सड़कों पर पानी भरने से ट्रैफिक बाधित हुआ। वहीं दृश्यता कम होने से अंधेरा छाया रहा। सुबह 5:30 बजे से रात 8:30 बजे तक तापमान 13 से 14 डिग्री के बीच स्थिर रहा। ऐसा सीजन में पहली बार हुआ है।

24 घंटे के दौरान अधिकतम तापमान मंे 8.2 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है। दिनभर बारिश होने के कारण लोग अलाव तापते हुए नजर आए। सरकारी कार्यालयों में सन्नाटा पसरा रहा। लोग घरों से कम िनकले। इससे सड़क व बाजार में सन्नाटा रहा। दिन और रात के तापमान में महज 2.8 डिग्री सेल्सियस का अंतर दर्ज हुआ।

सुबह 14 डिग्री रिकॉर्ड हुआ पारा रात 8:30 बजे भी इतना ही रहा: गुरुवार को सुबह 5:30 बजे तापमान 14 डिग्री सेल्यिसस दर्ज हुआ। वहीं रात 8:30 बजे भी 14 डिग्री ही तापमान दर्ज हुआ। इसका कारण पूरे दिन एक समान मौसम का रहना है। पिछले दिन की तुलना में अधिकतम तापमान 8.2 डिग्री गिरावट के साथ 14.1 डिग्री दर्ज किया गया।

यह सामान्य से 8 डिग्री कम रहा। जबकि न्यूनतम तापमान 1.8 डिग्री बढ़त के साथ 11.3 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 4.2 डिग्री अधिक रहा। वहीं बारिश के चलते दृश्यता 300 मीटर रही। इससे वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

इतना ही नहीं पूरे दिन सूरज बादलों के बीच छिपा रहा। इससे दिन में पारा स्थिर रहा। मौसम विभाग के अनुसार 12 जनवरी के बाद मौसम साफ हो सकता है। बादल छंटते ही रात के तापमान में गिरावट आएगी। कोहरा भी छाएगा। उत्तरी हवा चलने के कारण लोग कड़ाके की ठंड का अहसास करेंगे।

खबरें और भी हैं...