पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

परेशानी:शहर में 120 बोरवेल का जल स्तर गिरा, 20 सूखे और 47 पर खतरा

ग्वालियर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गर्मी के पहले महीने में शहर में जल संकट की आहट

गर्मी शुरू हाेने के साथ ही शहर में जलसंकट की अाहट सुनाई देने लगी है। शहर में भूमिगत जल स्तर 20 से 30 फीट तक नीचे जा चुका है। शहर के चार विधानसभा क्षेत्रों में 2282 बोरवेल हैं। इनमें से 120 का जलस्तर गिर चुका है। 20 बोर सूख चुके हैं और 47 पर सूखने का खतरा मंडरा रहा है। छावनी क्षेत्र के वार्ड 5 और 6 ड्राई जोन में पहुंचने की कगार पर पहुंच गए हैं।

यहां पर बोरिंग में पाइप बढ़ाने लायक स्थिति भी नहीं बची है। निगम आयुक्त शिवम वर्मा ने शाम को दो विधानसभा क्षेत्रों की बैठक ली। उन्हाेंने जलसंकट से प्रभावित क्षेत्राें में टैंकरों से पानी सप्लाई करने के निर्देश दिए। कार्य में लापरवाही बरतने पर वार्ड-18 के सब इंजीनियर अजय वर्मा को निलंबित कर दिया।
लोगों के लिए पानी की पर्याप्त व्यवस्था करेंगे
नगर निगम आयुक्त शिवम वर्मा बोले कि यह बात सही है कि गर्मी के कारण भूजल स्तर नीचे जा रहा है। कुछ जगह बोरिंग सूख भी रही हैं। इसलिए बैठक लेकर टैंकरों से पानी व्यवस्था करने के लिए कहा है। इसके साथ ही यदि किसी कॉलोनी में आखिरी छोर तक पानी नहीं पहुंच रहा है। तो जहां तक पानी जा रहा है। वहां से कालोनी वासियों को पानी दिया जाएगा। यदि शिकायत पर कोई सब इंजीनियर या इंजीनियर जनता के फोन नहीं उठाता है, तो उस पर कार्रवाई होगी। इसको लेकर आज अजय वर्मा सब इंजीनियर को निलंबित कर दिया है।
जानिए.. कहां-कहां पर भूजल स्तर नीचे गिरा
गुड़ा-गुड़ी का नाका, गोल पहाड़िया, नई सड़क, निंबा जी की खो, आदित्यपुरम के आगे बसी कालोनी, विजया नगर, द्वारका पुरी, लक्ष्मीबाई कॉलोनी, रमटा पुरा, इंद्रा कालोनी, सांकेत नगर, महेश पुरा, गोल पहाड़िया आठ दुकानें, अजयपुर, गिरवाई, नगरा की पहाड़ी, इमली नाका आदि क्षेत्र में भूजल स्तर नीचे जाने लगा है।

ये क्षेत्र ड्राई जोन की कगार पर
छावनी क्षेत्र में 81 बोरिंग हैं। एक बोरिंग सूख चुकी है। 10 बोरिंग में नलों का कनेक्शन नहीं है। शेष में भूजल स्तर धीरे-धीरे नीचे जा रहा है। यहां के दो वार्ड एमएच चौराहा, हरदेव की टाल, सुतारपुरा, साहू पुरा, नींबूआ पुरा, काशीपुरा में जल स्तर 20-30 फीट नीचे तक जा पहुंचा है। पूर्व पार्षद चतुर्भुज कुशवाह का कहना है कि वार्ड-5 और 6 के उक्त क्षेत्र ड्राई जोन में बदलते जा रहे हैं।

475 निजी बोरिंग सूखीं
शहर के अंदर जहां पीएचई की बोरिंग नहीं है। वहां पर लोगों ने घरों में बोरिंग कराई हुई है। वह बोरिंग 150 से 200 फीट तक होती है। ये बोरिंग अब सूख चुकी हैं। ऐसी बोरिंग 475 हैं। ये बोरिंग शताब्दीपुरम, आदित्यपुरम, आस्था नगर, गोकुल विहार, शुभाजलि पुरम सहित तीनों विधानसभा में हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आपका संतुलित तथा सकारात्मक व्यवहार आपको किसी भी शुभ-अशुभ स्थिति में उचित सामंजस्य बनाकर रखने में मदद करेगा। स्थान परिवर्तन संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने के लिए समय अनुकूल है। नेगेटिव - इस...

    और पढ़ें