पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ट्रीटमेंट प्लांट:नए प्लांट से नौ दिन में भी नहीं भरीं पानी की टंकियां

ग्वालियर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

तिघरा बांध से जलालपुर वाटर ट्रीटमेंट प्लांट के लिए डाली जा रही 1600 एमएम व्यास वाली पानी की लाइन को पूरा करने में डेढ़ महीने से ज्यादा का वक्त लगेगा। यहां पर एक किलोमीटर लाइन बिछाने का काम बचा है, जो जुलाई तक पूरा हो पाएगा। इसके लिए कंक्रीट उद्योग कंपनी ने नगर निगम आयुक्त शिवम वर्मा को पत्र लिखकर जुलाई तक काम पूरा करने का समय मांगा है। इधर, जलालपुर वाटर ट्रीटमेंट प्लांट को ट्रायल के तौर पर 28 मई को शुरू कर दिया गया था। उस वक्त निगम के अधिकारियों ने 2-3 दिन में टंकियों को भरने का दावा किया था। लेकिन 9 दिन बीत जाने के बाद भी एक भी टंकी नहीं भर सकी है।
ये है सबसे बड़ी दिक्कत
मुरार क्षेत्र की टंकियों को भरने के लिए 1000 एमएम व्यास वाली पानी की लाइन डाली जा रही है। इसे सेंट्रल बैंक पुरानी छावनी मार्ग पर रोड क्रॉस कराया है। अभी तक लाइन प्लांट में जाकर नहीं जुड़ी है। इसके जुड़ने के बाद ही मुरार की टंकियों को भरा जाएगा। निगम आयुक्त शिवम वर्मा ने कहा कि तिघरा से जलालपुर तक लाइन डालने वाली कंपनी ने जुलाई तक का वक्त काम पूरा करने के लिए मांगा है। निगम इसका रिव्यू कर रहा है। साथ ही नए प्लांट से टंकियों को भरने में तकनीकी परेशानी थी, जिसे दूर कर लिया गया है।

खबरें और भी हैं...