• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Were Going Home To Enjoy The Holiday, A Speeding Car Trampled The Bike Riders As A Death On The Way, Two Cousins Died, One Injured

बचपन से साथ रहे, दुनिया भी एक साथ छोड़ी:छुट्‌टी का मजा लेने जा रहे थे घर, मौत बनकर आई तेज रफ्तार कार ने बाइक सवारों को रौंदा, दो चचेरे भाइयों की मौत, एक घायल

ग्वालियर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हादसे में जान गंवाने वाले चचेरे भाई अलबेल और गजेन्द्र। - Dainik Bhaskar
हादसे में जान गंवाने वाले चचेरे भाई अलबेल और गजेन्द्र।
  • दाल बाजार में काम करते थे मृतक और घायल

रविवार को छुट्टी थी इसका मजा लेने शहर से अपने गांव जा रहे तीन चचेरे भाइयों की बाइक में सामने से आ रही तेज रफ्तार कार ने टक्कर मार दी। हादसे में बाइक पर सवार दो चचेरे भाइयों की मौके पर ही मौत हो गई है। एक की हालत गंभीर है और उसे जयारोग्य अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दोनों मृतक चचेरे भाई बचपन से ही साथ रहे। हर काम साथ करते थे। पर यह नहीं जानते थे कि दुनिया भी एक साथ इस तरह छोड़ जाएंगे।

घटना रात 11 बजे उटीला थाना से सिर्फ 100 मीटर की दूरी पर हुई है। पुलिस ने तत्काल ही स्थिति को संभाला और घायलों को अस्पताल पहुंचाया है। तीनों चचेरे भाई हैं और कार की टक्कर लगने के बाद सिर में चोट लगी है। जिसने भी यह हादसा देखा उनके मुंह से यही शब्द निकले काश यह हेलमेट पहने होते। टक्कर मारने वाली कार का चालक उसे लेकर फरार हो गया है। घटना स्थल पर नंबर प्लेट पड़ी मिली है।

उटीला के हाइवे पर सड़क पर पड़ा खून बता रहा है कि हादसा कितना खतरनाक था
उटीला के हाइवे पर सड़क पर पड़ा खून बता रहा है कि हादसा कितना खतरनाक था

गिजोर्रा के किटोरा गांव निवासी अलबेल धानुक (18) पुत्र उमाशंकर धानुक शहर के दाल बाजार में काम करता था। उसके साथ ही चचेरे भाई गजेन्द्र धानुक (20) पुत्र भोगीराम धानुक तथा टिंकल धानुक (20) पुत्र गोटीराम धानुक भी काम करते हैं। इनमें से अलबेल तो 12वीं का छात्र भी है। रविवार को दाल बाजार बंद रहता है। रविवार के अवकाश पर गांव में परिवार से मिलने और एक दिन की छुट्‌टी का आनंद लेने के लिए तीनों भाई एक बाइक पर सवार होकर शनिवार रात गांव के लिए निकले थे। वह हेलमेट नहीं पहने हुए थे। रात करीब 11 बजे वह उटीला थाना क्रॉस करके सिर्फ 100 मीटर दूर ही पहुंचे थे कि सामने से आ रही तेज रफ्तार कार ने बाइक सवारों को रौंद दिया। कार की टक्कर से तीनों हवा में उछले और सिर के बल जमीन पर आ गिरे। अलबेल को कार पहिए के नीचे रौंदते हुए चालक भगा ले गया। हादसे में अलबेल और उसके चचेरे भाई गजेन्द्र की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि तीसरा भाई गंभीर रूप से घायल है। घटना के 10 मिनट बाद ही उटीला थाना प्रभारी SI एसएस परमार घटना स्थल पर पहुंच गए। उन्होंने तत्काल तीनों को अस्पताल पहुंचाया। जहां दो को मृत घोषित कर उनके शव डेड हाउस में रखवा दिए गए, जबकि तीसरे घायल टिंकल को जयारोग्य के ICU में भर्ती किया गया है।

भाई के साथ तीनों दोस्त की तरह रहते थे

  • घायल टिंकल के भाई हरिमोहन ने बताया कि हम उम्र होने के कारण बचपन से ही गजेन्द्र, अलबेट और टिंकल साथ रहते थे। तीनों चचेरे भाई हैं, लेकिन उनका रिश्ता भाई से ज्यादा दोस्ती का था। एक की नौकरी लगने पर उसने दो और भाइयों को भी अपने साथ काम पर लगवा लिया था। तीनों एक ही कमरे में रहते थे। गांव में भी एक साथ आया जाया करते थे। अब दो की मौत से उनकी बचपन की जोड़ी टूट गई है।

घायल की एक साल पहले हुई है शादी

  • हादसे में जान गंवाने वाले गजेन्द्र और अलबेल अभी अविवाहित थे, जबकि घायल टिंकल की एक साल पहले ही शादी हुई है। हादसे का पता चलते ही परिजन अस्पताल पहुंच गए हैं।

रात को हुआ हादसा सुबह मिली नंबर प्लेट

  • सुबह जब पुलिस घटना स्थल पर पहुंची तो वहां पर एक कार नंबर MP07 CE-1579 नंबर की रजिस्ट्रेशन प्लेट मिली है। पुलिस ने इस नंबर प्लेट को निगरानी में लेकर पड़ताल की तो पता चला है कि यह वाहन ग्वालियर का है। उटीला थाना प्रभारी SI एसएस परमार ने बताया कि नंबर से वाहन मालिक का पता लगाकर एक पुलिस पार्टी वहां के लिए रवाना कर दी गई है।
खबरें और भी हैं...