• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • When The Brother Beat Her, The 12th Student Reached The Fort To Die, The Police Arrived On Time While Matching The CCTV Footage, Saved A Life

12वीं की छात्रा सुसाइड करने पहुंची:भाई ने पीटा तो बहन नाराज होकर ग्वालियर के किले पर चढ़ी, पुलिस CCTV फुटेज के जरिए पीछे-पीछे आ गई, कूदने से पहले बचा ली जान

ग्वालियर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ग्वालियर किला, जहां से छात्रा कूदने जा रही थी। - Dainik Bhaskar
ग्वालियर किला, जहां से छात्रा कूदने जा रही थी।

ग्वालियर में भाई की पिटाई से नाराज होकर एक लड़की खुदकुशी करने के इरादे से किले पर जा पहुंची। घर से किले की दूरी 12 किलोमीटर है। वह किले पर सुसाइड पॉइंट तलाश रही थी, तभी पुलिस पहुंच गई। पुलिस उसे समझाइश देकर थाने ले आई। यहां काउंसिलिंग की गई। कोर्ट में बयान के बाद लड़की अपने भाई और पिता के साथ घर चली गई। पूरी घटना रविवार दोपहर 3.45 बजे से शाम 6.11 बजे के बीच की है।
उपनगर मुरार के तिकोनिया निवासी 17 वर्षीय लड़की को घरेलू मामले में उसके बड़े भाई ने पीट दिया। वह 12वीं की छात्रा है। भाई के पीटने पर छात्रा दोपहर 3.45 बजे घर से गुस्से में बाहर निकल गई। जब छात्रा के घर से इस तरह निकलने का पता लगा तो बिना देर किए परिजन मुरार थाना पहुंच गए। उन्होंने पूरी घटना से अवगत कराया। पुलिस भी तत्काल उसकी तलाश में निकल पड़ी। पुलिस ने घर के पास के चौराहे पर लगे CCTV कैमरों के फुटेज खंगाले। छात्रा एक ऑटो में बैठते हुए दिखी। इसके बाद TI मुरार शैलेन्द्र भार्गव ने दो टीमें बना दीं। एक टीम CCTV फुटेज से कड़ी जोड़कर डेटा जुटाती रही, तो दूसरी टीम पहली से मिले इनपुट पर काम काम करती रही।
किले तक ऐसे पहुंची पुलिस
पुलिस टीम ने शहर के अन्य कैमरों के फुटेज देखे तो उसी रजिस्ट्रेशन नंबर के ऑटो शिन्दे की छावनी से बहोड़ापुर की तरफ जाते दिखा। इसके बाद पुलिस पीछा करते हुए शिन्दे की छावनी से आगे पहुंची तो पता चला कि ऑटो चालक छात्रा को उरवाई गेट पर छोड़कर आया है। छात्रा किले पर गई है। इसका पता चलते ही पुलिस शाम 6.11 बजे किले पर पहुंची और छात्रा कोई गलत कदम उठाती उससे पहले ही उसे सुरक्षित ले आई।
मारपीट से गुस्से में थी छात्रा
पुलिस ने बताया कि जब छात्रा को लेकर आए तो वह काफी गुस्से में थी। पुलिस ने अपने स्तर पर उसकी काउंसिलिंग की। इसके बाद उससे मारपीट करने वाले परिजन को भी समझाया। पुलिस ने छात्रा को कोर्ट में पेश कर बयान भी दर्ज कराए हैं। आखिर में लड़की को उनके परिजन के सुपुर्द कर दिया है।

खबरें और भी हैं...