पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आवारा मवेशियों का जमावड़ा:मुख्य सड़कों सहित गलियों में मवेशियों का जमावड़ा, वाहन चालक हो रहे हादसे का शिकार

पिछोर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पिछोर कस्बे में मेन रोड से लेकर कस्बे की गली मोहल्लों में आवारा मवेशियों का जमावड़ा है। यह मवेशी रोड पर कई जगह बैठे रहते हैं। रात के समय अंधेरा होने के कारण वाहन चालकों को दिखाई नहीं पड़ते हैं और हादसे का शिकार हो रहे हैं। इसके साथ ही मवेशियों के कारण वाहन चालक भी हादसे का शिकार हो रहे हैं। बावजूद इसके इनको गौशालाओं में नहीं पहुंचाया जा रहा है।

दरअसल शहर से निकले मेन रोड पर बस स्टेंड, कालिंद्री, कल्याणपुर तिराहा, नहर के पास एवं अन्य जगहों बीच रोड पर मवेशी बैठे रहते हैं। जिसके चलते दिन में ट्रैफिक प्रभावित होता है। कई बार वाहन चालक इन मवेशियों को बचाने के चक्कर में हादसे का शिकार हो रहे हैं। यही नहीं कस्बे की लगभग सभी गलियों में भी यह आवारा मवेशी घूम रहे हैंl रात के समय यह मवेशी वाहन चालकों को दिखाई नहीं देते हैं। पिछले एक सप्ताह मैं 10 से ज्यादा लोग इन आवारा मवेशियों से टकराकर घायल हो चुके हैं। आवारा मवेशी रोड पर न घूमे इसके लिए ब्लॉक में दो करोड़ 16 लाख खर्च कर जौरासी, लखनौती, मेहगांव, कुम्हर्रा, सिसगांव, धवा, एवं जनकपुर में गौशाला का निर्माण किया गया था। ग्रामीण क्षेत्र की प्रत्येक गौशाला में 100 मवेशियों काे रखा जाना था। लेकिन इसके बाद भी मवेशी गौशालाओं में न होकर खुले में घूम रहे हैं। इस मामले में नगर परिषद के प्रशासक बृजमोहन आर्य का कहना है कि जिन ग्राम पंचायतों में गौशाला में बनी है उन्हें चालू करने के इंतजाम किए जा रहे हैंl रात के समय मवेशियों को पकड़ कर जंगलों में भी छुड़वाया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...