बिजली गुल / आंधी से हाईटेंशन लाइन में आया फॉल्ट 22 घंटे तक 20 गांवों में बंद रही बिजली

X

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

रघुनाथपुर. सोमवार की शाम करीब 4 बजे आई तेज आंधी की वजह से 33-11 केवी लाइन एक सप्ताह में दूसरी बार धाराशाही हो गई। इससे रघुनाथपुर समेत आसपास के गांवों में रातभर बिजली गुल रही। बिजली कर्मचारी सोमवार की रात से लेकर मंगलवार की दोपहर तक पूरा दिन लाइन में फाॅल्ट ढूंढ़ते रहे, लेकिन एक फाॅल्ट सही करने के बाद दूसरा फाॅल्ट होने से बिजली सप्लाई बहाल नहीं हो सकी। ऐसे में 20 गांवों में 22 घंटे तक बिजली गुल रही। बिजली सप्लाई मंगलवार की दोपहर 3 बजे के बाद बहाल हो सकी।
बिजली कंपनी के जेई मिलनराज सिंह ने बताया कि सोमवार को आई आंधी के चलते 33-11 केवी लाइन में वीरपुर और छाबर के बीच एक फाल्ट आया। जबकि दूसरा फाॅल्ट रघुनाथपुर और छाबर के बीच हो गया। इससे बिजली सप्लाई पूरी तरह से ठप हो गई। रघुनाथपुर से जुड़े गांवों में 22 घंटे तक बिजली नहीं आई। बिजली कंपनी के कर्मचारियों का दावा है कि उनके कर्मचारी फाॅल्ट आने के बाद ही रातभर फाॅल्ट ढूंढने में लगे रहे। मंगलवार की सुबह रघुनाथपुर और छाबर के बीच पहला फाॅल्ट मिला। जबकि दोपहर में दूसरे फाॅल्ट की मरम्मत की गई। ऐसे में दोपहर तीन बजे तक बिजली सप्लाई बंद रही। इससे लोगों के घरों में पानी की सप्लाई नहीं की जा सकी। रातभर भी लोग अपने घरों में नहीं सो सके। लोगों को पानी भरने के लिए जनरेटर का सहारा लेना पड़ा। 

इन गांव में बंद रही सप्लाई
आंधी आने की वजह से हाईटेंशन लाइन टूटने की गई। जिससे ग्राम रावतपुरा, बरीका हार, महुआमार, धोकरी, पोलाहेत, लक्ष्मणपुरा, टर्रा, किन्नपुरा, सुठारा, मिलावली खेरोदा, आंकोदिया, सुखवास, भूरेंडी, गांव की बिजली सप्लाई ठप हो गई। वहीं ज्यादातर गांव में बिजली सप्लाई को बहाल करने का दावा बिजली विभाग ने किया है। वहीं रघुनाथपुर और चैनपुरा में काम चालू होने की वजह से लाइट दिन भर ट्रिप भी करती रही है। जिससे लोग गर्मी में बेहाल दिखाई दिए।

मेंटेनेंस के बाद भी बिजली गुल
मानसून का मेंटेनेंस बिजली कंपनी के द्वारा किया जा चुका है। बिजली कंपनी के अधिकारियों का दावा था कि मेंटेनेंस के बाद एक बार भी बिजली गुल नहीं होगी। वहीं ग्रामीणों की मानें तो हल्की हवा चलने पर ही बिजली बंद कर दी जाती है।

बिजली नहीं आने से पानी भी सप्लाई नहीं हो सका
33-11 केवी बिजली लाइन आंधी में टूटने के कारण रघुनाथपुर क्षेत्र के 14 गांव में बिजली के बिना ट्यूबवेल आधारित पेयजल सप्लाई ठप हो गई। लोगों को सुबह से ही हैंडपंप पर पानी भरने के लिए जाना पड़ा। ग्रामीण क्षेत्रों में सुबह से ही हैंडपंप सुबह से ही लाइन लगी रही। गर्मी और लाइट व्यवस्था ठप होने के पेयजल व्यवस्था बहाल नहीं हो पाई है। लोगों को जनरेटर चलाकर पानी भरना पड़ा।

फाॅल्ट सुधारे जा रहे हैं
लाइन में फाॅल्ट की सूचना मिलते ही मेंटनेंस का काम शुरू करवा दिया है। हमारे कर्मचारी रातभर लाइन में फाल्ट ढूंढ़ते रहे। फाॅल्ट मिलते ही हमने काम शुरू करा दिया था। अब बिजली सप्लाई बहाल हो गई है। 
मिलनराज सिंह, जेई, रघुनाथपुर

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना