पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मुख्यमंत्री पेयजल योजना:कैलारस व सबलगढ़ में गहराया पेयजल संकट, पानी का परिवहन करना मजबूरी

सबलगढ़17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सबलगढ़ में इस तरह पानी ढोने को मजबूर हैं लाेग। - Dainik Bhaskar
सबलगढ़ में इस तरह पानी ढोने को मजबूर हैं लाेग।
  • सबलगढ़ में पांच बोर फेल, पानी के लिए लोग परेशान
  • विधायक बोले- स्थानीय प्रशासन के लचर रवैया के कारण नपाकर्मी कर रहे मनमानी

नगर में पानी की समस्या दूर करने के लिए मुख्यमंत्री पेयजल योजना के तहत 10 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। जिसके तहत नगर में सुनेहरा हेड पर 16 बोर खनन कराए गए हैं। वर्तमान में इनमें 5 बोर फेल हो गए। एक्सपर्ट इंजीनियर का कहना है कि इस स्थान पर नगर पालिका के पहले 10 बोर थे, बावजूद इसके मुख्यमंत्री पेयजल योजना के यहां 16 बोर और करा दिए गए।

ऐसे में पांच क्या अधिकांश बोर फेल ही हो जाएंगे। योजना में हुई गड़बड़ी के चलते वर्तमान में नगर पालिका के पुराने बोरों से नगर के कुछ इलाके में पानी सप्लाई किया जा रहा है। सुनेहरा हेड पर पांच बोर फेल होने से पूरे नगर में पानी की समस्या गहरा गई है। जिसमें बैनीपुरा, संतर नंबर-1, चंबल कॉलोनी, बड़ा बाजार, रामपुर रोड स्थित सिद्धपुरा, तालाब बस्ती, गुरुद्वारा मोहल्ला में सबसे अधिक पानी की समस्या है।

इन इलाके के युवाओं को साइकिलों के जरिए घरों में पानी की आपूर्ति करना पड़ रही है। पानी भरने में महिलाओं, बालिकाओं व युवाओं को सुबह शाम चार-चार घंटे का समय व्यतीत करना पड़ रहा है। खास बात यह है कि नगर की पेयजल व्यवस्था को सुधारने प्रभवित लोग नगर पालिका सीएमओ व एसडीएम को कई बार अवगत करा चुके हैं, बावजूद इसके पेयजल व्यवस्था को सुधारने की दिशा में कठोर कार्रवाई नहीं की जा रही है। जबकि पेयजल समस्या को लेकर नगर में आक्रोश पनप रहा है, जो कभी भी बड़े आंदोलन का रूप ले सकता है।

खबरें और भी हैं...