वैक्सीनेशन के लिए मैदान में कलेक्टर:इंजेक्शन से डर रहे थे 15 से 18 साल के बच्चे, समझाने के लिए बस्ती में पहुंचे कलेक्टर, 10 को लगवाया टीका

श्योपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

श्योपुर जिले में बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए कलेक्टर खुद मैदान में उतर गए। शुक्रवार दोपहर 1:30 बजे सीएम शिवराज सिंह चौहान की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद कलेक्टर शिवम वर्मा क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सभी सदस्यों और एसपी अनुराग सुजानिया सहित बालापुरा बस्ती में जा पहुंचे।

यहां कलेक्टर वर्मा ने वैक्सीन लगवाने से कतरा रहे 15 से 18 वर्ष के बच्चों को वैक्सीन लगाने के लिए प्रेरित किया। इस दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी बीएल यादव भी मौजूद रहे।

इंजेक्शन के डर रहे थे बच्चे

शहर की बालापुरा बस्ती में टीकाकरण कार्य में जुटी एएनएम और अन्य कार्यकर्ताओं ने प्रशासन को बताया था कि कि बस्ती में कई बच्चे सुई के भय से टीका नहीं लगवा रहे है। इसलिए लक्ष्य अधूरा है। यह जानकारी मिलने के बाद कलेक्टर एसपी और क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्य बस्ती में पहुंच गए।

उन्होंने समझाइश देकर 10 से ज्यादा बच्चों को वैक्सीन का डोज लगवाया। इस दौरान प्रशासनिक अधिकारियों के साथ पूर्व विधायक दुर्गालाल विजय, ब्रजराज सिंह चौहान, बीजेपी नेता कैलाश नारायण गुप्ता मौजूद रहे।

37 हजार बच्चों को लगी वैक्सीन

जिले में 13 जनवरी तक 37 हजार से अधिक बच्चों को कोरोना टीका लगाया जा चुका है। इस कार्य के लिए 82 वैक्सीनेशन टीमें लगाई गई हैं। कलेक्टर शिवम वर्मा का कहना है कि सीएम ने शिवराज सिंह चौहान ने सभी को टीका लगाने के निर्देश दिए है।

इसी निर्देश का प्रशासन पालन कर रहा है। साथ ही ग्राउंड टीम ने बताया कि इस बस्ती में लोग टीकाकरण से कतरा रहे है। इसके बाद प्रशासन और क्राइसिस ग्रुप के सदस्यों ने यहां आकर लोगों का संशय दूर कर टीके लगवाए।

खबरें और भी हैं...