एफआईआर‎:मावा-पनीर में फैट कम, घी में तेल की‎ मिलावट, दो डेयरी संचालकों पर केस‎

श्योपुर‎एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एसडीएम के नेतृत्व में‎ दीपावली के पूर्व की‎ गई थी कार्रवाई, अब‎ कराई गई एफआईआर‎

दीवाली के दो दिन पहले एसडीएम‎ के साथ फूड इंस्पेक्टर ने दो डेयरी‎ पर छापामार कार्रवाई की। जहां उन्हें‎ स्वच्छता की कमी मिली। इसके‎ साथ ही गंदगी मिली। इस पर उनके‎ खिलाफ 4 नवंबर को एफआईआर‎ दर्ज कराई गई। अब इनकी सैंपलों‎ की जांच रिपोर्ट भी मिल गई है।‎ जिसमें इनका पनीर, मावा और घी‎ अमानक पाया गया है।‎ एसडीएम लोकेंद्र सरल के साथ‎ फूड इंस्पेक्टर हनुमान मित्तल ने‎ शहर के शिवपुरी रोड स्थित जय‎ गुरूदेव दूध डेयरी पर छापा मारा‎ था। यहां कई खाद्य सामग्री सड़ी हुई‎ मिली। इसके साथ ही घी, पनीर‎ और मावा के सैंपल लिए गए।‎ इसके बाद पाली रोड स्थित मनीष‎ दूध डेयरी पर छापा मारा।

यहां भी‎ पनीर सड़ा हुआ मिला और मावा,‎ पनीर, दही व घी के सैंपल लिए।‎ जय गुरूदेव डेयरी के सैंपल‎ तत्काल भेजे गए, जिनकी रिपोर्ट शुक्रवार को प्रशासन को मिल गई‎ है। इस रिपोर्ट पनीर व मावा में फैट‎ की मात्रा कम पाई गई। जबकि घी‎ के सैंपल की जांच रिपोर्ट में सामने‎ आया कि इसकी आरएम वैल्यू ‎(रिचर्ड मिशल वैल्यू) कम पाई‎ गई। फूड इंस्पेक्टर हनुमान मित्तल ने‎ बताया कि आरएम वैल्यू कम‎ निकलना, इसका मतलब साफ है‎ कि घी में तेल व वनस्पति की‎ मिलावट की गई है। सैंपल जांच‎ रिपोर्ट के आधार पर केस बनाकर‎ अलग से एडीएम न्यायालय में पेश‎ किया जाएगा। जबकि मनीष डेयरी‎ के संचालक अमित गोयल और‎ जय गुरूदेव डेयरी के संचालक‎​​​​​​​ प्रकाशचंद गुप्ता पर दुकान व‎ निर्माण स्थान कारखाना में सफाई न‎ रखने के तहत एफआईआर कराई‎ गई है।‎

खबरें और भी हैं...