पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

संक्रमण का असर:242 साल में पहली बार छिमछिमा हनुमान मंदिर पर नहीं लगेगा मेला

श्याेपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 22 से 25 अगस्त के बीच आयोजित किया जाना था मेला, दर्शनार्थियों की होगी थर्मल स्क्रीनिंग, बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं पर रहेगा प्रतिबंध

विजयपुर से दो किमी दूर घने जंगल में स्थापित चमत्कारिक छिमछिमा हनुमान मंदिर पर इस साल मेले का आयोजन नहीं होगा। धार्मिक कार्यक्रमों पर भी रोक रहेगी। कोरोना काल में इस बार मंदिर में एक बार में सिर्फ पांच श्रद्धालुओं के दर्शन करने की अनुमति होगी। मंदिर में अंदर जाने से पहले श्रद्धालुओं की स्क्रीनिंग की जाएगी। दर्शन के बाद पूरे मंदिर को सेनेटाइज किया जाएगा। राज्य शासन के द्वारा धार्मिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों पर रोक के आदेश के बाद इस संबंध में कलेक्टर राकेश कुमार श्रीवास्तव ने गुरुवार को आदेश जारी कर दिए हैं। जानकारों के मुताबिक 242 सालों में यह पहला मौका है जब मेले का आयोजन नहीं किया जा रहा है। जारी आदेश के मुताबिक मंदिर प्रांगण में पांच से अधिक श्रद्धालुओं को दर्शन करने का मौका नहीं मिलेगा। ऐसा पहली बार होगा कि जिले के बाहर से आने वाले श्रद्धालु भी दर्शन नहीं कर पाएंगे। जिले के बाहर से आने वाले किसी भी सदस्य को एंट्री नहीं दी जाएगी। मंदिर से एक किमी की परिधि में 5 से ज्यादा लोग एक साथ खड़े नहीं हो सकेंगे। मंदिर दर्शन करने के बाद पूरे मंदिर को सेनेटाइज करने की व्यवस्था भी रहेगी। गसवानी और विजयपुर क्षेत्र से आने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ को रोकने की जिम्मेदारी संबंधित क्षेत्र के थाना प्रभारियों को दी गई है। पार्किंग व्यवस्था रखने के भी इस दौरान निर्देश दिए गए हैं। गौरतलब है कि भादों मास के शुक्ल पक्ष में पहले शनिवार या मंगलवार को विशाल मेले का आयोजन किया जाता है। हर साल मेले में पांच लाख से अधिक श्रद्धालु मंदिर में पहुंचते हैं। बीते साल इस मेले को और भी भव्य रूप देकर मेले का आयोजन तीन दिनों के लिए किया गया था। इस साल यह मेला 22 अगस्त से लेकर 25 अगस्त तक प्रस्तावित किया गया है। लेकिन इस बार कोरोना संकट के चलते मेले के आयोजन पर प्रतिबंध लगाया गया है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें