पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Sheopur
  • In Sheopur, The Groom Said Do Not Tie Me In My Marriage, The Lover Said He Loves, Shot Him And Took Seven Rounds For The Next Day

दूल्हे ने दुल्हन के लवर को गोली मारी:श्योपुर में दूल्हे ने कहा- मेरी होने वाली पत्नी का पीछा छोड़ दो; प्रेमी बोला- वह मुझसे प्यार करती है; दूल्हे ने फायर किया और अगले दिन लिए फेरे

श्योपुर14 दिन पहले
अस्पताल में भर्ती कुलवीर उर्फ जसवीर।

श्योपुर में शादी से एक दिन पहले दूल्हे ने अपनी होने वाली दुल्हन के प्रेमी की गोली मार दी। फिर सात फेरे लिए। दूल्हे ने प्रेमी से कहा कि उसकी कल शादी होने वाली है। उसकी होने वाली पत्नी का पीछा छोड़ दे। इस पर प्रेमी ने कहा कि वह उससे प्यार करती है और तुम जबरन शादी कर रहे हो। इस पर दूल्हे ने प्रेमी को गोली मार दी। प्रेमी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

घटना श्योपुर के बड़ौदा थाना क्षेत्र के पांडोला गांव की है। पुलिस ने पीड़ित की रिपोर्ट पर दूल्हा समेत तीन के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पांडोला निवासी प्रेमी कुलवीर उर्फ जसवीर (23) पुत्र विक्रम सिंह ने पुलिस को बताया कि सोमवार की रात 12 बजे उसे उसकी प्रेमिका के दूल्हे पवन ने बुलाया। उससे कहा कि वह उसकी होने वाली पत्नी का पीछा छोड़ दे और उनकी मंगलवार को होने वाली शादी में कोई बाधा न डाले।

इसके बाद मैंने पवन से जब कहा कि वह (लड़की) मुझसे प्यार करती है और यह शादी जबरन की जा रही है तो पवन ने कट्टा निकालकर मुझे गोली मार दी, जो मेरी कमर से आर-पार हो गई। घटना के समय पवन के साथ उसका भाई दिलखुश और गोकुल भी थे। पुलिस ने बयान के आधार पर तीनों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

फरियादी पर भी छेड़छाड़ व अन्य अपराध दर्ज

पुलिस के मुताबिक, फरियादी कुलवीर उर्फ जसवीर भी अपराध से जुड़ा हुआ है। उस पर थाने में कई केस दर्ज हैं। इनमें छेड़छाड़ व मारपीट के मामले उसके खिलाफ चल रहे हैं। उधर, गोली मारे जाने की सूचना के बाद भी पुलिस ने मंगलवार को कोई कार्रवाई नहीं की और आरोपी पवन ने दुल्हन के साथ सात फेरे लिए। अब पुलिस आरोपी पवन और उसके भाइयों के खिलाफ कार्रवाई में जुट गई है।

गोली आर-पार फिर भी पीड़ित गंभीर नहीं

बड़ौदा अस्पताल के डॉक्टर आरके शाक्य ने बताया कि पीड़ित कुलवीर उर्फ जसवीर जब उनके पास आया तो उन्हें लगा नहीं कि वह गोली लगने से घायल हुआ है, क्योंकि वह सामान्य मरीजों की तरह बर्ताव कर रहा था। फिर भी उसे देखने के बाद जिला अस्पताल भेज दिया।

मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है

फिलहाल पीड़ित के बयान के आधार पर हमने दूल्हे समेत उसके भाइयों पर केस दर्ज किया है। इस मामले में एमएलसी रिपोर्ट मिलने तक ज्यादा कुछ नहीं कहा जा सकता है। हम मामले की जांच कर रहे हैं।

सतीश सरवैया, चौकी प्रभारी, पांडोला

खबरें और भी हैं...