पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भारतीय किसान यूनियन ने किया विरोध प्रदर्शन:किसानों ने बिजली बिलों को लेकर घेरा जीएम का दफ्तर, कंपनी का तर्क- जांच कराकर सुधार करेंगे

श्योपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

किसानों के खेत में लगी ट्यूबवेलों के बिजली बिल मनमाने तरीके से दिए जाने के खिलाफ भारतीय किसान यूनियन समेत तमाम संगठनों ने मिलकर शुक्रवार को बिजली कंपनी के जीएम का दफ्तर घेर लिया। यहां किसानों ने जीएम से गड़बड़ बिजली बिलों की शिकायत की। इस पर उन्होंने कहा कि वह उक्त शिकायतों का निराकरण जांच कराकर कर देंगे।

शुक्रवार की दोपहर 1 बजे भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष राधेश्याम मूंडला, ओमप्रकाश मीणा, जसवंत बछेरी समेत अन्य किसानों व संगठनों के पदाधिकारियों ने श्रीहजारेश्वर पार्क में बैठक के बाद शिवपुरी रोड स्थित बिजली कंपनी के जीएम के दफ्तर का घेराव किया।

यहां किसान नारेबाजी करते हुए पहुंचे और घेराव के साथ जीएम आरके अग्रवाल को ज्ञापन सौंपा। इसमें उन्होंने बताया कि किसानों के खेतों में बोर में 10 एचपी की मोटर है बावजूद इसके उन्हें 15 एचपी के बिल दिए जा रहे है। यह गड़बड़ी लगातार हर साल की जाती है। इसपर पहले तो जीएम ने कहा कि वह अभी 3 महीने से आए है, लेकिन उनकी जानकारी में ऐसा कुछ नही आया है। अब शिकायती आवेदनों का जांच कराकर निराकरण करेंगे। इसके बाद किसान संगठन ज्ञापन देकर वापस लौट गए।

खबरें और भी हैं...