बदहाल सड़कें:पानी से जगह-जगह से उखड़ा हाईवे रास्ते खराब, बारिश के चलते मेंटेनेंस भी मुश्किल

श्योपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कुहांजपुर हाईवे पर बड़ौदा में बीच से बह गई हाईवे की पुलिया। इस कारण आवागमन ठप हो गया है। - Dainik Bhaskar
कुहांजपुर हाईवे पर बड़ौदा में बीच से बह गई हाईवे की पुलिया। इस कारण आवागमन ठप हो गया है।

जिले में पांच दिन पहले आई बाढ़ से जबरदस्त तबाही हुई है। पानी उतरने के बाद सड़कों की हालत खस्ता हो चुकी है। हालात यह हैं कि सड़कें पैदल चलने लायक तक नहीं बची हैं। कहीं बीच रास्ते से सड़क बह गई है तो कहीं सड़क किनारे इस तरह से क्षतिग्रस्त हो चुके हैं कि लोगों को वाहन चलाने में डर का सामना करना पड़ रहा है। सबसे ज्यादा ग्रामीण इलाकों में सड़कों की हालत खराब है।

उखड़ चुकी सड़क पर मरम्मत कराने के लिए संबंधित विभाग भी परेशान हो रहे हैं। बारिश की कारण जगह-जगह से रास्ते कट जाने से मशीनरी भी प्रभावित इलाकों में काम करने के लिए नहीं पहुंच पा रही है। वही बारिश के चलते मरम्मत का काम भी शुरू नहीं हो पा रहा है। इन सड़कों की बदहाली देख भी लोग भी परेशान हो रहे हैं। बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत नहीं मिलने से जहां लोगों में गुस्सा है वहीं सड़क मार्ग ध्वस्त होने से लोगों को परेशानी का दंश झेलना पड़ रहा है। बारिश के चलते गोरस-शिवपुरी हाईवे बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हुआ है। विजयपुर में मुरैना और ग्वालियर को जोड़ने वाली टेंटरा की पुलिया क्षतिग्रस्त होने की वजह से श्योपुर के लोगों का ग्वालियर से संपर्क कट गया है। श्योपुर से लेकर वीरपुर तक एनएच 552 एक्सटेंशन भी बाढ़ प्रभावित होने के चलते बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो चुकी है।

बड़ौदा को श्योपुर और कुहांजापुर से जोड़ने वाला हाईवे तो कई जगह से बह जाने के कारण लोगों का आवागमन प्रभावित हो रहा है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत तैयार हुईं 50 से ज्यादा सड़कें भी इस बारिश में तबाह हो गई हैं। विजयपुर में क्वारी नदी पर बना पुल भी क्षतिग्रस्त होने से कई गांवों से संपर्क टूट गया है।

खबरें और भी हैं...