पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना का असर:कई लोगों ने मैरिज गार्डन की बुकिंग कैंसिल की, कुछ ने कहा- मेहमान कम तो इतने दाम क्यों दें

श्योपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 100 मेहमानों की पाबंदी के बाद लोग घरों में ही शादी समारोह कराने की तैयारी कर रहे

22 अप्रैल से शहनाइयों की गूंज शुरू हो जाएगी लेकिन एक बार फिर शादियों पर कोरोना का साया छा गया है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ ही जिले में भी लगातार एक्टिव केस बढ़ रहे हैं। ऐसे में जिला प्रशासन ने शादी समारोह में सिर्फ 100 लोगों के शामिल होने बंधन लगा दिया है। इस नई गाइडलाइन से उन परिवारों की मुश्किल बढ़ गई है जिनके घरों में शादी है। साथ ही मैरिज गार्डन संचालकों पर भी संकट आ गया है क्योंकि अब लोग पहले की गई बुकिंग कैंसिल करा रहे हैं। हालात यह हैं कि अक्षय तृतीया के लिए भी मैरिज गार्डनों की बुकिंग नहीं हुई है। बीते साल कोरोना के कारण आर्थिक संकट का सामना कर चुके मैरिज गार्डन संचालकों का कहना है कि इस बार उन्हें अच्छे व्यापार की उम्मीद थी। शादी समारोहों की पूरी तैयारियां कर ली गईं थीं लेकिन नई गाइडलाइन से सब कुछ खत्म सा हो गया है। बुकिंग कराने वाले लोगों का कहना है कि जब हम कम मेहमान बुला रहे हैं तो गार्डन में इतना खर्चा क्यों करें? ऐसे में गार्डन संचालकों ने भी आधे दाम पर ही गार्डन किराए पर दे दिए हैं।

बड़ौदा के एक गार्डन संचालक ने बताया कि गार्डन में जो कार्यक्रम 15 हजार रुपए में किए जा रहे थे, वे अब 7 से 8 हजार रुपए ही दे रहे हैं। वहीं कराहल में मैरिज गार्डन का संचालन करने वाले हेमंत श्रीवास्तव ने बताया कि उनके मैरिज गार्डन में 24, 27 और 30 अप्रैल को तीन शादियां बुक थीं, लेकिन लोग उन्हें कैंसिल करा गए। इसी प्रकार वीरपुर के एक मैरिज गार्डन में तीन, विजयपुर के तीन मैरिज गार्डनों में 7, बड़ौदा के मैरिज गार्डन में 2 दो शादियां कैंसिल की गई हैं।
तीन हजार मेहमानों के खाने का ऑर्डर, अब समझा रहे कि कम मेहमान बुलाओ
वीरपुर के एक मैरिज गार्डन संचालक ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों की शादियों की बुकिंग दो महीने पहले ले ली थी। इस शादी में हलवाइयों को तीन से 4 हजार मेहमानों के खाना बनाने का ऑर्डर दिया गया है। अब कार्रवाई होने के डर से वे लोगों को फोन पर सूचना दे रहे हैं कि गाइड लाइन के हिसाब से ही कार्यक्रम करें। हालाकि उनके यहां अभी कोई बुकिंग कैंसिल नहीं हुई है। वहीं कराहल के टेंट हाउस संचालक ने बताया कि कोरोना की गाइड लाइन आने के बाद लोगों ने टेंट का सामान ही आधा कर दिया है जिससे उनका नुकसान हो रहा है।
कैटरिंग संचालक भी छोटी बुकिंग कैंसिल कर रहे
हलवाई मंगल कुशवाह ने बताया कि शादी समारोहों में गाइड लाइन आने से पहले उनके पास 15 से अधिक बड़े ऑर्डर थे जिसमें 3 से 4 हजार मेहमानों का खाना तैयार करना था। अब गाइड लाइन आने के बाद लोग उन्हें 100 से 300 लोगों का खाना बनाने के लिए कह रहे हैं, ऐसे में उनका और उनकी लेबर का खर्चा भी नहीं निकलेगा इसलिए उन्होंने 10 ऑर्डर तो कैंसिल ही कर दिए हैं।

22 अप्रैल से मुहूर्त लेकिन किसी ने नहीं ली अनुमति
बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए जिला संकट समूह प्रबंधन की बैठक में शादी समारोह में 100, अंत्येष्टि और तेरहवीं कार्यक्रम में 20 लोगों के शामिल होने के लिए जिला प्रशासन की अनुमति को अनिवार्य किया गया है। 22 अप्रैल से शादियां शुरू हो रहीं हैं, लेकिन इन शादियों की अनुमति के लिए वीरपुर, कराहल, विजयपुर और बड़ौदा के तहसील कार्यालयों में एक भी आवेदन नहीं पहुंचा है। वहीं अधिकारियों का कहना है कि यदि आवेदन आएगा तो गाइड लाइन के हिसाब से ही अनुमति दी जाएगी।
इस बार अक्षय तृतीया पर भी कम शादियां
15 मई को अक्षय तृतीया पर जिलेभर में 200 से अधिक शादियां होती हैं लेकिन इस बार अक्षय तृतीया पर शादी के लिए वीरपुर, कराहल, विजयपुर, बड़ौदा में कोई भी मैरिज गार्डन बुक नहीं किया गया है। हालाकि कुछ टेंट हाउस वालों का कहना है कि अक्षय तृतीया पर उनके पास बुकिंग तो हुई है लेकिन लोग सामान बहुत ही कम मात्रा में बुक करा रहे हैं। यानी यह आयोजन अपने घरों से ही आयोजित कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों में आपकी व्यस्तता बनी रहेगी। किसी प्रिय व्यक्ति की मदद से आपका कोई रुका हुआ काम भी बन सकता है। बच्चों की शिक्षा व कैरियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी संपन...

    और पढ़ें