पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नए नियम:मैरिज गार्डन के हाेंगे नए सिरे से पंजीयन

श्योपुर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • वैवाहिक स्थान के लिए पहुंच मार्ग की न्यूनतम चौड़ाई 12 मीटर अनिवार्य

शहरी क्षेत्राें में 50 व्यक्ति से अधिक एकत्रित हाेने की क्षमता रखने वाले संचालित मैरिज गार्डन, हाेटल, भूखंड, फार्म, सामुदायिक केंद्र, भवन, क्लब, बैंक्वेट हाॅल, धर्मशाला आदि जहां कि विवाह, सगाई, बारातघर, जन्मदिवस जैसे अन्य सामाजिक समाराेह, उत्सव आदि का आयोजन स्थलों के पंजीयन शासन की नई गाइडलाइन के तहत कराने हाेंगे।

नगरीय प्रशासन की ओर से नई गाइडलाइन काे लेकर राजपत्र जारी कर दिया गया है। जिसके तहत तीन माह के अंदर पंजीयन अनिवार्य हाेंगे। यदि काेई मैरिज गार्डन उक्त गाइडलाइन के तहत पंजीकृत नहीं पाया जाता है ताे संबंधित के खिलाफ कार्रवाई हाेगी।

गाइडलाइन के तहत संचालक काे अब पंजीयन शुल्क के अतिरिक्त वार्षिक दर से उपभाेक्ता शुल्क भी देना हाेगा जाे कि मैरिज गार्डन के निर्माण की श्रेणी के आधार पर तय किया गया है। नगरपालिका उक्त दराें में प्रत्येक 3 वर्ष बाद कम से कम 10 प्रतिशत की वृ़द्धि करेगी।

पहली बार बने हैं नियम, यह हाेगा अनिवार्य

मैरिज गार्डन में रात 10 बजे से सुबह 8 बजे तक ध्वनिविस्तारक यंत्र नहीं बजेगा।,मैरिज गार्डन की सुरक्षा व्यवस्था की जवाबदारी संचालक की हाेगी। पार्किंग अनिवार्य, गार्डन पहुंच मार्ग कम से कम 12 मीटर चाैड़ा हाेगा। भूखंड स्थल किसी विद्दालय,महाविद्दालय और चिकित्सालय की बाउंड्री से 100 मीटर से अधिक दूरी पर हाेना अनिवार्य है।

अभी तक केवल संपत्ति कर ही देते हैं संचालक

मैरिज गार्डन संचालकों ने बताया कि अब तक मैरिज गार्डन का संपत्ति कर ही नपा काे दे रहे थे। शासन की नई गाइडलाइन के बारे में अब तक काेई सूचना नहीं है। यदि कर बढ़ाया जाता है ताे संभवत: किराया भी बढ़ सकता है, लेकिन यह कर तय हाेने के बाद ही निर्धारित हाेगा।

पहले से बने हुए मैरिज गार्डन पर भी लागू होंगे नए नियम

मैरिज गार्डन व अन्य उत्सवों व सामाजिक आयोजन स्थलों के लिए नियम निर्धारण किया है उसके आधार पर ही आगे निर्माण हाेगा। पूर्व के जाे भी निर्मित वैवाहिक स्थल हैं उनके नियमों की प्रतिपूर्ति कराई जाएगी ताकि वे भी नियमानुरूप ही संचालित हाें।

-मिनी अग्रवाल, सीएमओ, नगर पालिका श्योपुर

यह है पंजीयन की शर्तें

  • आतिशबाजी, हलवाई की चिन्हित जगह, दो गेट, एक गेट होने पर आवेदन देना होगा।
  • विवाह स्थल के लिए 12 मीटर चौड़ा मार्ग, सामुदायिक भवन के लिए 9 मीटर।
  • अग्निशमन व स्थानीय निकाय का बकाया न होने की एनओसी।
  • पार्किंग स्थल कुल जगह का 25%।
  • निकाय का बकाया न होने की एनओसी।
  • कचरे के निष्पादन, रात 10 से सुबह 8 बजे तक ध्वनि विस्तारक यंत्र न चलाने की घोषणा।

अब पार्कों में नहीं हो सकेंगी शादियां

शासन की नई गाइडलाइन के अनुसार अब पार्कों में शादी विवाह समारोह नहीं होंगे। सार्वजनिक आयोजन स्थल स्कूल-कॉलेज या फिर अस्पताल से 100 मीटर की दूरी पर होना जरूरी होंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser