विवाद / कुपोषित बच्ची को एनआरसी में भर्ती कराने बुलाना पड़ी पुलिस

X

  • बरगंवा में 7 माह की बालिका मिली कुपोषित, पांच दिन से नहीं मान रहे थे परिजन, हुआ विवाद

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

श्योपुर. कराहल के बरगंवा सेक्टर में अतिकुपोषित बालिका को भर्ती कराने के लिए ग्रोथ मॉनीटर को पांच दिनों तक चक्कर काटने पड़े। जब परिजनों ने एनआरसी में भर्ती कराने से मना कर दिया तो उन्हें पुलिस का सहारा लेना पड़ा। 
ग्रोथ मॉनीटर मनोज शर्मा ने बताया कि बरगंवा में गृहभेंट कार्यक्रम के दौरान उन्हें  7 माह की मुस्कान अतिकुपोषित की अवस्था में मिली। जब उन्होंने परिजन को बालिका को एनआरसी में भर्ती कराने के लिए कहा तो परिजन ने कोरोना का बहाना बनाकर मना कर दिया। दूसरे दिन जब वे वापस माता-पिता की काउंसिलिंग करने के लिए पहुंचे तो परिजन ने मजदूरी पर जाने की बात कहकर टाल दिया। उन्हें परिजनों के चक्कर काटते-काटते 5 दिन बीत गए। मंगलवार को जब वे अपनी साथी चेतन गुप्ता के साथ पहुंचे तब भी परिजन नहीं माने और उनके साथ विवाद करने लगे। इसके बाद ग्रोथ मॉनीटर ने पुलिस को बुला लिया। इसके बाद परिजन बालिका को एनआरसी में भर्ती कराने के लिए राजी हुए। उसे कराहल की एनआरसी में भर्ती कराया गया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना