पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दूसरी लहर सबसे घातक:10000 लोग संक्रमित; प्रदेश का 14वां संक्रमित जिला, संभाग में ग्वालियर के बाद यहां सबसे ज्यादा संक्रमण

शिवपुरी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बीते 13 माह में 4162 पॉजिटिव केस थे, अब अप्रैल-मई के 37 दिन में ही 6 हजार नए संक्रमित निकले
  • फरवरी के आखिरी दिनों में सतर्कता नहीं बरती मार्च में केस बढ़ने पर भी नहीं संभले इसलिए अप्रैल महीने में हालात काबू से बाहर हो गए

कोरोना संक्रमण अप्रैल में पूरे चरम पर रहा और अब मई में भी राहत नहीं है। अधिक संख्या में संक्रमित निकलने की वजह से ग्वालियर महानगर के बाद संभाग के जिलों की तुलना में शिवपुरी जिले में कोरोना मरीज 10 हजार पार पहुंच गए हैं। संक्रमण के मामले में प्रदेश में शिवपुरी 14वां सबसे अधिक संक्रमित जिला है।

जबकि पिछले सात दिनों की पॉजिटिविटी रेट में शिवपुरी जिला 52 जिलों में दूसरे स्थान तक पहुंच गया। टीकमगढ़ के बाद शिवपुरी जिले में पॉजिटिव केस सबसे अधिक निकले हैं। बीते तेरह महीनों के आंकड़ों पर नजर डालें तो कुल 4132 पॉजिटिव केस थे। लेकिन अप्रैल-मई के 37 दिन में ही नए पॉजिटिव केस 6 हजार पार हो गए हैं। कोरोना महामारी फैलने के पीछे ना केवल स्वास्थ्य विभाग बल्कि आमजन भी बराबर से जिम्मेदार हैं। फरवरी के आखिरी महीने में अचानक केस केस बढ़े तो किसी ने भी सतर्कता नहीं बरती। मार्च में भी केस बढ़ने के बाद भी नहीं संभले तो अप्रैल में अचानक संक्रमित तेजी से निकलने शुरू हो गए।

हालात आज बेकाबू हो चुके हैं। मई के पहले सप्ताह में ही मरीज दो हजार के आसपास पहुंच गए हैं। महानगर इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर, उज्जैन, के बाद सबसे अधिक संक्रमित जिलों में रतलाम, सागर, रीवा, खरगौन, बैतूल, धार, विदिशा और सतना के बाद शिवपुरी जिला शामिल है। ग्वालियर-चंबल संभाग की बात करें तो ग्वालियर के बाद सबसे अधिक कोरोना मरीज शिवपुरी जिले में हैं।

खबरें और भी हैं...