पंचायत चुनाव:232 पूर्व-वर्तमान सरपंचों ने किया 8.5 करोड़ का गबन, अब चुनाव लड़ना है तो लौटानी होगी रकम

शिवपुरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नो-ड्यूज सर्टिफिकेट लेने बिजली कंपनी सहित विभिन्न विभागों के चक्कर लगा रहे दावेदार

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर पहले और दूसरे चरण की प्रक्रिया शुरू हो गई है। वह व्यक्ति ही चुनाव लड़ सकेगा, जिस पर कोई सरकारी राशि बकाया नहीं होगी। इसके लिए नामांकन पत्र भरने वालों से बिजली कंपनी सहित सभी प्रमुख विभागों से नो ड्यूज सर्टिफिकेट मांगा जा रहा है। इसके लिए दावेदार विभागों के चक्कर काट रहे हैं। वहीं 232 पूर्व सरपंच ऐसे हैं जो गबन के मामले में फंसे हुए हैं। इन सरपंचों पर कुल 8 करोड़ 51 लाख 14 हज़ार 181 रुपए बकाया हैं।

जो सरपंच गबन की राशि जमा नहीं करेगा, वह चुनाव नहीं लड़ सकेगा। इसी तरह पंच, सरपंच, जनपद सदस्य, जिला पंचायत सदस्यों के लिए नए दावेदारों पर भी कोई बकाया नहीं होना चाहिए। यह शर्त उन लोगों के लिए मुसीबत बनी हुई है जो बिजली, नल का बिल जमा नहीं करते हैं या फिर किसी योजना के तहत ऋण लिया, फिर वापस नहीं किया। ऐसे में अब दावेदार नो-ड्यूज प्रमाण पत्र के लिए संबंधित विभागों के चक्कर लगा रहे हैं। साथ ही कई दावेदार बिजली और नल के बिल की बकाया राशि भी जमा कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...