पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कार्रवाई का डर:12वीं का परिणाम बिगड़ा तो 25 हायर सेकंडरी स्कूलों ने जानकारी नहीं भेजी

शिवपुरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शिक्षक कहीं कार्रवाई के दायरे में न आ जाएं इसलिए रिपोर्ट नहीं भेज रहे प्राचार्य

अतिथि शिक्षक और परिणाम बिगड़ने वाले विषय को पढ़ाने वाले शिक्षक के खिलाफ विभाग कार्रवाई न कर दे। इस डर से हायर सेकंडरी स्कूलों के प्राचार्य ने विषय बार प्रतिशत के आधार पर परिणाम जिला कार्यालय भेजा ही नहीं है। जिले के कुल 70 स्कूलों में से ऐसे 25 स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई का मन अब विभाग ने बना लिया है इसलिए इन्हें नोटिस जारी कर दो दिन में परिणाम प्रतिशत मांगा है। यदि यह जानकारी उपलब्ध नहीं हुई तो फिर सीधे प्राचार्य कार्रवाई की जद में आएंगे।
दरअसल कक्षा 12 का परीक्षा परिणाम माध्यमिक शिक्षा मंडल भोपाल द्वारा 27 जुलाई को जारी किया था। तब से अब तक पूरे 12 दिन हो गए हैं, लेकिन स्कूल प्राचार्यों ने अब तक विषय बार क्या प्रतिशत उनके स्कूल का परिणाम रहा। यह जानकारी नहीं दी है। ऐसे जिले में 70 में से 25 हायर सेकंडरी स्कूल शामिल हैं। जिन्होंने पास फेल की जानकारी तो विभाग को दे दी है, लेकिन उसका प्रतिशत विषयबार नहीं भेजा। इससे कक्षा 12 के परीक्षा परिणाम की समीक्षा करने में विभाग को परेशानी होगी और विभाग यह तो जान लेगा कि कितना फीसदी परिणाम जिले का रहा, लेकिन विषयबार आंकड़ों के हिसाब से यह जानकारी नहीं ले पाएगा कि किन विषयों का परिणाम कितना बिगड़ा ताकि विद्यालय की हकीकत सामने निकलकर आए कि आखिर क्या कमी रह गई कि कक्षा 12 का परीक्षा परिणाम बिगड़ गया।
दरअसल अब से दो हफ्ते पहले कक्षा 10 के परीक्षा परिणाम की समीक्षा बैठक लेने जब ग्वालियर से जेडी अरविंद सिंह आए थे, तब उन्होंने प्राचार्यों से पूछा था कि वह यह बताएं कि आपके विद्यालय 0-30 फीसदी परिणाम में आए हैं तो क्या आपने अतिथि शिक्षक नहीं रखा, क्या आपके यहां विषय का शिक्षक नहीं था। तो इसका जवाब प्राचार्य नहीं दे पाए थे। इससे जेडी ने प्राचार्यों को फटकार लगाकर कहा था कि अतिथि शिक्षक रखा तो क्या आपने निगरानी नहीं की। फिर परिणाम क्यों बिगड़ा। वहीं जिस स्कूल में विषयों के शिक्षक थे उन्होंने क्या ठीक से विद्यार्थियों को पढ़ाया नहीं या फिर उनकी मॉनीटरिंग प्राचार्यों ने की ही नहीं। ऐसे में अतिथि शिक्षकों को ब्लैक लिस्टेड करने और विषय शिक्षकों पर कार्रवाई करने के निर्देश उन्होंने दिए थे। माना जा रहा है कि प्राचार्य इसी डर से परिणाम की समीक्षा नहीं भेज रहे हैं कि कहीं कार्रवाई के डर से उनके स्कूल के अतिथि और शिक्षक जेडी की कार्रवाई का शिकार न हो जाएं।
25 स्कूल प्राचार्यों को नोटिस, 2 दिन में जानकारी मांगी वरना कार्रवाई

रमसा प्रभारी एमयू शरीफ की मानें तो जिले में हायर सेकंडरी स्कूल 70 हैं और अहम बात यह है कि मॉडल स्कूल और उत्कृष्ट स्कूल के प्राचार्य भी इसमें शामिल हैं जिन्होंने छात्र प्रतिशत परिणाम नहीं भेजे हैं। ऐसे 25 स्कूल के प्राचार्य को हमने कहा है कि वह 2 दिन यानि मंगलवार तक हर हाल में छात्र परिणाम विषयबार प्रतिशत हमें भेज दें।वरना हम कार्रवाई करेंगे।
पिछले साल की तुलना में 0.68 फीसदी परिणाम बढ़ा, लेकिन 0-30 फीसदी परिणाम के साथ विषयबार परिणाम बिगड़ने वाले स्कूलों को करना है चिन्हित

पिछले साल की तुलना में 0.68 फीसदी परिणाम कक्षा 12 का बढ़ा है। 2019 में जिले का परीक्षा परिणाम 77.51 फीसदी था जबकि 2020 में 78.49 फीसदी परिणाम आया है, लेकिन जिन स्कूलों का परिणाम 0-30 फीसदी तक रहा है। ऐसे स्कूलों की समीक्षा होनी है और विषयबार समीक्षा भी जेडी सहित डीईओ करेंगे इसलिए विभाग विषयबार आंकडे जुटा रहा है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप धैर्य व विवेक का उपयोग करके किसी भी समस्या को सुलझाने में सक्षम रहेंगे। आर्थिक पक्ष पहले से अधिक सुदृढ़ स्थिति में रहेगा। परिवार के लोगों की छोटी-मोटी जरूरतों का ध्यान रखना आपको खुशी प्र...

और पढ़ें