कोरोना का असर / 20 दिन से बैंक बंद होने पर असिस्टेंट मैनेजर ने बताई वजह; बोले- लोग हमसे गलत व्यवहार कर रहे, बोलते हैं- देखो! कोरोना जा रहा है

करैरा की बैंक ऑफ इंडिया जो 20 दिन से बंद है। करैरा की बैंक ऑफ इंडिया जो 20 दिन से बंद है।
X
करैरा की बैंक ऑफ इंडिया जो 20 दिन से बंद है।करैरा की बैंक ऑफ इंडिया जो 20 दिन से बंद है।

  • मैनेजर और चपरासी के संक्रमित मुक्त होने के बाद भी बंद है करैरा की बैंक
  • 5 हजार से अधिक ग्राहक परेशान, 20 करोड़ का लेनदेन प्रभावित

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 09:55 AM IST

शिवपुरी. मध्यप्रदेश के शिवपुरी की करैरा तहसील में पिछले 20 दिन से बैंक ऑफ इंडिया की ब्रांच बंद है। इस वजह से 5 हजार से अधिक ग्राहकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। अब जब बैंक बंद होने की जो वजह सामने आई है, वो हैरान करने वाली है। अस्टिटेंट मैनेजर का कहना है कि जब वह बाहर निकलते हैं तो इलाके के लोग उनसे कोरोना कहकर तंज करते हैं।  बता दें, कुछ दिन पहले बैंक के दो कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए गए थे।

असिस्टेंट मैनेजर मुकेश आर्य ने अपनी पीड़ा जाहिर करते हुए दैनिक भास्कर को बताया - हम ग्राहकों से बहुत अच्छा व्यवहार करते हैं लेकिन हमारे मैनेजर और कर्मचारी की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद भी आम नागरिक हमसे गलत व्यवहार कर रहे हैं। सार्वजनिक स्थानों से पानी नहीं भरने देते हैं। बाजार में निकलने पर हमसे बोला जाता है कि देखो! ये कोरोना जा रहा है। बैंक ऑफ इंडिया करैरा के मैनेजर अजय सिंह और चपरासी विनोद जाटव 10 जून को कोरोना संक्रमित पाए गए थे। उनकी रिपोर्ट आने के बाद 11 जून से बैंक बंद कर दी गई। संक्रमित बैंक अधिकारी और कर्मचारी कोरोना मुक्त हो गए, इसके बाद भी बैंक नहीं खुल सकी है। 

एक-दो दिन में खुल जाना चाहिए बैंक: जिला मैनेजर
बैंक ऑफ इंडिया शिवपुरी के जिला बैंक मैनेजर ने इस मामले में पहले तो कहा- बैंक खुल गई है। यदि बंद है तो आप लाइन पर रहिए, मैं वहां के बैंक ऑफिसर को लाइन पर लेता हूं। इसके बाद बोले- एरिया मैनेजर से मैंने पूछा तो उन्हें कुछ भी मालूम नहीं है। बैंक एक दो दिन में खुल जाना चाहिए।

लगातार 2 दिन से ज्यादा बंद नहीं रह सकती बैंक
ब्रांच को लगातार इतने बंद करने का कोई प्रावधान नहीं है। नियम के हिसाब से दो दिन ही बैंक बंद रख सकते हैं। इसके बाद ब्रांच को सेनेटाइज कर चालू किया जाता है। यदि ब्रांच 21 दिन से बंद है तो मैं पता करता हूं। 
हृदेश सिकरवार, प्रबंधक, लीड बैंक शिवपुरी

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना